Bigg Boss 14 Rubina Dilaik Shakti Astitva Ke Ehsaas Ki रूबिना दिलैक को लेकर काम्या पंजाबी ने की यह भविष्यवाणी सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Bigg Boss 14 Rubina Dilaik Shakti Astitva Ke Ehsaas Ki रूबिना दिलैक को लेकर काम्या पंजाबी ने की यह भविष्यवाणी

 

Bigg Boss 14 Rubina Dilaik: रूबिना दिलैक को लेकर काम्या पंजाबी ने की यह भविष्यवाणी, 'शक्ति' में साथ कर चुकी हैं काम
BB S14

Bigg Boss 14 Rubina Dilaik: रूबिना दिलैक को लेकर काम्या पंजाबी ने की यह भविष्यवाणी, 'शक्ति' में साथ कर चुकी हैं काम Kamya Punjabi, Shakti Astitva Ke Ehsaas Ki, Abhinav Shukla, Sidharth Shukla, Hina Khan, Gauahar Khan, BB S14



बिग बॉस 14 में इस बार कई कंटेस्टेंट्स को शुरुआत में ही झटका लगा, जब उन्हें रिजेक्ट कर दिया गया था। इनमें से एक टीवी एक्ट्रेस रूबिना दिलैक भी हैं, जिन्हें स्पेशल ऑडिएंस सिद्धार्थ शुक्ला, हिना ख़ान और गौहर ख़ान के रिजेक्शन के कारण लॉन में रहना पड़ रहा है।

 

 

 यह भी पढ़े:  This Week Upcoming On Ott Web Series And Films

 



उनके साथ रिजेक्ट हुए निशांत, जान और सारा गुरपाल घर के अंदर दाख़िल हो चुके हैं, मगर रूबिना अभी भी बाहर हैं। ख़ास बात यह है कि रूबीना को घर के अंदर लाने का मौक़ा उनके पति अभिनव शुक्ला को मिला। अभिनव, ज्वैल थीफ टास्क जीतने के बदले मिली इम्यूनिटी छोड़कर रूबीना को अंदर ला सकते थे, मगर उन्होंने ऐसा नहीं किया, जिसके चलते रूबिना थोड़ा मायूस भी हुई थीं, मगर उन्होंने ख़ुद को टूटने नहीं दिया।

 



रूबिना की इस बात से उनकी साथी कलाकार काम्या पंजाबी बेहद प्रभावित हैं और दावा किया कि रूबिना शो में काफ़ी लम्बा सफ़र तय करेंगी। 

 



काम्या ने ट्वीट किया- रूबिना, जिस तरह से तुमने ख़ुद को सम्भाला है, तुम पर गर्व है। यह लड़की अपने दम पर आगे जाएगी। रूबिना और काम्या ने कलर्स के ही शो शक्ति- अस्तित्व के एहसास की शो में साथ काम किया है। रूबिना ने इस शो में किन्नर का किरदार निभाया है, जबकि काम्या उनकी सास के रोल में थीं। शो में विवियन डिसेना लीड रोल में हैं।

   

बिग बॉस सीज़न-14, 3 अक्टूबर को शुरू हुआ है। इस बार शो में सिद्धार्थ, हिना और गौहर सीनियर्स के तौर पर मौजूद हैं, जो सभी कंटेस्टेंट्स को जज कर रहे हैं। दो हफ़्ते बाद इनकी रिपोर्ट के आधार पर कुछ कंटेस्टेंट्स शो के अंदर रहेंगे और कुछ बेदखल हो जाएंगे। शो में फिलहाल 11 कंटेस्टेंट्स निक्की तम्बोली, सारा गुरपाल, रूबिना दिलैक, एजाज़ ख़ान, निशांत सिंह मलकानी, अभिनव शुक्ला, जैस्मीन भसीन, शहज़ाद देओल, जान कुमार शानू, पवित्रा पूनिया और राहुल वैद्य शामिल हैं। यह सभी फ्रेशर्स हैं।

 

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

एक दिन अचानक हिंदी कहानी, Hindi Kahani Ek Din Achanak

एक दिन अचानक दीदी के पत्र ने सारे राज खोल दिए थे. अब समझ में आया क्यों दीदी ने लिखा था कि जिंदगी में कभी किसी को अपनी कठपुतली मत बनाना और न ही कभी खुद किसी की कठपुतली बनना. Hindi Kahani Ek Din Achanak लता दीदी की आत्महत्या की खबर ने मुझे अंदर तक हिला दिया था क्योंकि दीदी कायर कदापि नहीं थीं. फिर मुझे एक दिन दीदी का वह पत्र मिला जिस ने सारे राज खोल दिए और मुझे परेशानी व असमंजस में डाल दिया कि क्या दीदी की आत्महत्या को मैं यों ही व्यर्थ जाने दूं? मैं बालकनी में पड़ी कुरसी पर चुपचाप बैठा था. जाने क्यों मन उदास था, जबकि लता दीदी को गुजरे अब 1 माह से अधिक हो गया है. दीदी की याद आती है तो जैसे यादों की बरात मन के लंबे रास्ते पर निकल पड़ती है. जिस दिन यह खबर मिली कि ‘लता ने आत्महत्या कर ली,’ सहसा विश्वास ही नहीं हुआ कि यह बात सच भी हो सकती है. क्योंकि दीदी कायर कदापि नहीं थीं. शादी के बाद, उन के पहले 3-4 साल अच्छे बीते. शरद जीजाजी और दीदी दोनों भोपाल में कार्यरत थे. जीजाजी बैंक में सहायक प्रबंधक हैं. दीदी शादी के पहले से ही सूचना एवं प्रसार कार्यालय में स्टैनोग्राफर थीं. लता

Hindi Family Story Big Brother Part 1 to 3

  Hindi kahani big brother बड़े भैया-भाग 1: स्मिता अपने भाई से कौन सी बात कहने से डर रही थी जब एक दिन अचानक स्मिता ससुराल को छोड़ कर बड़े भैया के घर आ गई, तब भैया की अनुभवी आंखें सबकुछ समझ गईं. अश्विनी कुमार भटनागर बड़े भैया ने घूर कर देखा तो स्मिता सिकुड़ गई. कितनी कठिनाई से इतने दिनों तक रटा हुआ संवाद बोल पाई थी. अब बोल कर भी लग रहा था कि कुछ नहीं बोली थी. बड़े भैया से आंख मिला कर कोई बोले, ऐसा साहस घर में किसी का न था. ‘‘क्या बोला तू ने? जरा फिर से कहना,’’ बड़े भैया ने गंभीरता से कहा. ‘‘कह तो दिया एक बार,’’ स्मिता का स्वर लड़खड़ा गया. ‘‘कोई बात नहीं,’’ बड़े भैया ने संतुलित स्वर में कहा, ‘‘एक बार फिर से कह. अकसर दूसरी बार कहने से अर्थ बदल जाता है.’’ स्मिता ने नीचे देखते हुए कहा, ‘‘मुझे अनिमेष से शादी करनी है.’’ ‘‘यह अनिमेष वही है न, जो कुछ दिनों पहले यहां आया था?’’ बड़े भैया ने पूछा. ‘‘जी.’’ ‘‘और वह बंगाली है?’’ बड़े भैया ने एकएक शब्द पर जोर देते हुए पूछा. ‘‘जी,’’ स्मिता ने धीमे स्वर में उत्तर दिया. ‘‘और हम लोग, जिस में तू भी शामिल है, शुद्ध शाकाहारी हैं. वह बंगाली तो अवश्य ही

Maa Ki Shaadi मां की शादी- भाग 1: समीर अपनी बेटी को क्या बनाना चाहता था?

मां की शादी- भाग 1: समीर अपनी बेटी को क्या बनाना चाहता था? मां की शादी- भाग 1: समीर अपनी बेटी को क्या बनाना चाहता था? समीर की मृत्यु के बाद मीरा के जीवन का एकमात्र मकसद था समीरा को सुखद भविष्य देना. लेकिन मीरा नहीं जानती थी कि समीरा भी अपनी मां की खुशियों को नए पंख देना चाहती थी. संध्या समीर और मैं ने, परिवारों के विरोध के बावजूद प्रेमविवाह किया था. एकदूसरे को पा कर हम बेहद खुश थे. समीर बैंक मैनेजर थे. बेहद हंसमुख एवं मिलनसार स्वभाव के थे. मेरे हर काम में दिलचस्पी तो लेते ही थे, हर संभव मदद भी करते थे, यहां तक कि मेरे कालेज संबंधी कामों में भी पूरी मदद करते थे. कई बार तो उन के उपयोगी टिप्स से मेरे लेक्चर में नई जान आ जाती थी. शादी के 4 वर्षों बाद मैं ने प्यारी सी बिटिया को जन्म दिया. उस के नामकरण के लिए मैं ने समीरा नाम सुझाया. समीर और मीरा की समीरा. समीर प्रफुल्लित होते हुए बोले, ‘‘यार, तुम ने तो बहुत बढि़या नामकरण कर दिया. जैसे यह हम दोनों का रूप है उसी तरह इस के नाम में हम दोनों का नाम भी समाहित है.’’ समीरा को प्यार से हम सोमू पुकारते, उस के जन्म के बाद मैं ने दोनों परिवारों मे