सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

पोस्ट

नवंबर, 2020 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

Gaon Shayari Collection Hindi घर वापसी पर शायरी चुनिंदा शेर - हिन्दी शायरी एच

  gaon shayari in urdu , Gaon shayari hindi , गांव शायरी उर्दू  gaon shayari in urdu , गांव शायरी हिंदी ghar wapsi par shayari , घर वापसी पर शायरी gaon ki mitti shayari , गांव की मिट्टी शायरी khet shayari, गांव की शायरी gaon ki shayari, खेत शायरी,  ख़ोल चेहरों पे चढ़ाने नहीं आते हमको गांव के लोग हैं हम शहर में कम आते हैं -बेदिल हैदरी जो मेरे गांव के खेतों में भूख उगने लगी मेरे किसानों ने शहरों में नौकरी कर ली -आरिफ़ शफ़ीक़   gaon shayari hindi  गांव शायरी   नैनों में था रास्ता, हृदय में था गांव हुई न पूरी यात्रा, छलनी हो गए पांव -निदा फ़ाज़ली मां ने अपने दर्द भरे खत में लिखा सड़कें पक्की हैं अब तो गांव आया कर - अज्ञात    gaon shayari in urdu घर वापसी पर शायरी   सुना है उसने खरीद लिया है करोड़ों का घर शहर में मगर आंगन दिखाने आज भी वो बच्चों को गांव लाता है -अज्ञात शहर की इस भीड़ में चल तो रहा हूं ज़ेहन में पर गांव का नक़्शा रखा है - ताहिर अज़ीम खींच लाता है गांव में बड़े बूढ़ों का आशीर्वाद, लस्सी, गुड़ के साथ बाजरे की रोटी का स्वाद - डॉ सुलक्षणा अहलावत gaon ki mitti shayari गांव की मिट्टी

Hindi Poem Manzilen, Manzil Ki Talash Shayari in Hindi हिंदी कविता मंज़िलें - हिन्दी शायरी एच

  hindi poem on manzil  शिरीन भावसार    Hindi Poem Manzilen short hindi poem on manzil, हिंदी कविता मंज़िलें manzil kavita in hindi, manzil ki safar poem in hindi, kavita hindi main, umeed poem in hindi मंजिलें   मंजिलें इंतजार करती हैं  बरसों बरस ...  नींव के पत्थर की भांति  अडिग रहती हैं ...      सराय की मानिंद  कभी  बाहें पसारे  स्वागत को आतुर  कभी  आगंतुक के  पलायन को स्वीकारती ...      short hindi poem on manzil   कई कारवां गुजरते हैं  ठहरते हैं ,  छूते हैं ,  खुशियां महसूसते हैं  फिर ... आगे बढ़ जाते हैं  पुन : एक नई मंजिल गढ़ते हैं ..          पीछे छोड़ी गई  मंजिलों के हिस्से फिर  एक इंतजार लिख जाते हैं ...        manzil kavita in hindi     यादों और लम्हों की  निशानियों को  वक्त की गर्द से लीप - पोतकर  मिटाती मंजिल भी  दुखती तो होगी ...      किसी का भी गुजर जाना  महज एक घटना भी तो नहीं ...     manzil ki safar poem in hindi

Hindi Kahani दुस्वप्न-संविधान के साथ ससुराल में क्या हुआ था | Hindishayarih

  best hindi kahani लेखक- वीरेंद्र बहादुर सिंह  Hindi Kahani दुस्वप्न-संविधान के साथ ससुराल में क्या हुआ था संविधा ने घर में प्रवेश किया तो उस का दिल तेजी से धड़क रहा था. वह काफी तेजतेज चली थी, इसलिए उस की सांसें भी काफी तेज चल रही थीं. दम फूल रहा था उस का. राजेश के घर आने का समय हो गया था, पर संयोग से वह अभी आया नहीं था. अच्छा ही हुआ, जो अभी नहीं आया था. शायद कहीं जाम में फंस गया होगा. घर पहुंच कर वह सीधे बाथरूम में गई. हाथपैर और मुंह धो कर बैडरूम में जा कर जल्दी से कपड़े बदले. राजेश के आने का समय हो गया था, इसलिए रसोई में जा कर गैस धीमी कर के चाय का पानी चढ़ा दिया. चाय बनने में अभी समय था, इसलिए वह बालकनी में आ कर खड़ी हो गई.सामने सड़क पर भाग रही कारों और बसों के बीच से लोग सड़क पार कर रहे थे. बरसाती बादलों से घिरी शाम ने आकाश को चमकीले रंगों से सजा दिया था.   सामने गुलमोहर के पेड़ से एक चिड़िया उड़ी और ऊंचाई पर उड़ रहे पंछियों की कतार में शामिल हो गई. पंछियों के पंख थे, इसलिए वे असीम और अनंत आकाश में विचरण कर सकते थे.वह सोचने लगी कि उन में मादाएं भी होंगी. उस के मन में एक सवाल उठा और उसी के स

Recipe Make Paneer Casserole at Home घर पर बनाएं पनीर पुलाव - Hindi Shayarih

  Make Paneer Casserole at Home   Make Paneer Casserole at Home in hindi  मेहमान भी हो जाएंगे खुश घर पर बनाएं इस तरीके से पनीर पुलाव .    पनीर पुलाव हम अक्सर अपन घर के आप पास हो रही पार्टी में खाते हैं. ऐसे में हम अपने घर पर भी मेहमानों के लिए पनीर पुलाव बना सकते हैं. आइए आज आपको पनीर पुलाव बनान की विधि बतात हैं. पनीर पुलाव को आप बेहद ही कम समय में  बना सकते हैं. अगर आपके पास समाग्री कम है तो भी आप पनीर पुलाव को बना सकते हैं. आइए जानते हैं इसे बनाने के लिए क्या-क्या समाग्री चाहिए होता है.  Make Paneer Casserole at Home बासमती चावल पनीर 2 कप काजू प्याज गाजर हरी मटर जीरा तेज पत्ता इलायची लौंग रेड चीली   पुलाव बनाने की विधि  सबसे पहले एक कड़ाही में घी को गर्म कर लें, जब घी गर्म हो जाए तो उसमें सभी खड़े मसाले डाल दें,और कुछ देर तक भूनें. जब मसाले भूून रहे हो उसे दौरान कुकर में चावल गर्म को बनने के लिए रख दें. जब चावल बन जाए तो उसे चम्मच से अलग-अलग करके रख दें. अब आप कड़ाही में बारीक कटा हुआ प्याज और मसाले को कुछ देर तक भूने जब प्याज और मसाले एक साथ भून जाए तो अलग से पनीर के टुकड़े को लो

Poco M3 Price in India स्मार्टफोन हुआ लॉन्च, मिला तीन कैमरे और Poco Mobile 6000mah की बैटरी का सपोर्ट

  Poco m3 price in india,  poco m3 launch, poco m3 specs, poco m3 specs price, Poco M3 Price in India स्मार्टफोन हुआ लॉन्च, मिला तीन कैमरे और Poco Bobile 6000mah की बैटरी का सपोर्ट पोको ने अपने नए स्मार्टफोन Poco M3 को ग्लोबली लॉन्च कर दिया है। Poco M3 में क्वॉलकॉम का स्नैपड्रैगन 662 प्रोसेसर है। इसके अलावा इसमें ट्रिपल रियर कैमरा सेटअप दिया गया है। Poco M3 की डिस्प्ले डॉट ड्रॉप डिजाइन वाली है। बता दें कि इससे पहले एम सीरीज के तहत दो स्मार्टफोन Poco M2 और Poco M2 Pro लॉन्च किए गए हैं। इनमें से Poco M2 मीडियाटेक हीलियो G80 और Poco M2 Pro स्नैपड्रैगन 720G प्रोसेसर के साथ आता है। Poco M3 की कीमत Poco M3 की ग्लोबल कीमत $149 यानी करीब 11,000 रुपये है। इस कीमत में 4 जीबी रैम और 128 जीबी स्टोरेज वाला वेरियंट मिलेगा। वहीं 4 जीबी रैम के साथ 128 जीबी स्टोरेज वेरियंट की कीमत $169 यानी करीब 12,500 रुपये है। यह फोन कूल ब्लू, पोको येल्लो और पावर ब्लैक कलर वेरियंट में मिलेगा। भारत में इस फोन की लॉन्चिंग को लेकर कोई आधिकारिक जानकारी उपलब्ध नहीं है।       The biggest screen with FHD+ quality. A 48MP m

Sudarshan Faakir Poetry T2w Line Sad Shayari in Hindi for Love Love Shayri Sad in Hindi

Sudarshan FaakirLove Shayri Sad in Hindi   Sudarshan Faakir Poems, Lyricist T2w Line Sad Shayari in Hindi for Love Naav top sher Love Shayri Sad in Hindi सुदर्शन फ़ाकिर के 20 मशहूर शेर : टूटे दिल की दर्द बयां कर रहे हैं   ज़िक्र जब होगा मोहब्बत में तबाही का कहीं याद हम आएँगे दुनिया को हवालों की तरह ज़हर पीने की तो आदत थी ज़माने वालों अब कोई और दवा दो कि मैं ज़िन्दा हूँ अभी sad love shayari in urdu   लिखा हुआ था जिस किताब में, कि इश्क़ तो हराम है हुई वही किताब ग़ुम, बड़ी हसीन रात थी   दिल तो रोता रहे और आँख से आंसू न बहे इश्क़ की ऐसी रिवायात ने दिल तोड़ दिया sudarshan faakir poetry in hindi   आप कहते थे कि रोने से न बदलेंगे नसीब उम्र भर आप की इस बात ने रोने न दिया   फ़लसफ़े इश्क़ में पेश आए सवालों की तरह हम परेशाँ ही रहे अपने ख़यालों की तरह sudarshan faakir sad shayari   जब भी अंजाम-ए-मोहब्बत ने पुकारा ख़ुद को वक़्त ने पेश किया हम को मिसालों की तरह   ये भी तो सज़ा है कि गिरफ़्तार-ए-वफ़ा हूँ क्यूँ लोग मोहब्बत की सज़ा ढूँढ़ रहे हैं  sudarshan faakir, sudarshan fakir famous shaya

Parveen Shakir Ki Shayari And Urdu Shayar परवीन शाकिर की शायरी - Hindi shayarih

Parveen Shakir Ki Shayari     परवीन शाकिर Ki Shayari   मैं सच कहूंगी मगर फिर भी हार जाऊंगी वो झूट बोलेगा और ला-जवाब कर देगा वो न आएगा हमें मालूम था इस शाम भी इंतिज़ार उस का मगर कुछ सोच कर करते रहे   Parveen Shakir Ki Shayari hindi   कैसे कह दूं कि मुझे छोड़ दिया है उस ने बात तो सच है मगर बात है रुस्वाई की अब तो इस राह से वो शख़्स गुज़रता भी नहीं अब किस उम्मीद पे दरवाज़े से झाँके कोई   परवीन शाकिर की शायरी   हम तो समझे थे कि इक ज़ख़्म है भर जाएगा क्या ख़बर थी कि रग-ए-जां में उतर जाएगा वो मुझ को छोड़ के जिस आदमी के पास गया बराबरी का भी होता तो सब्र आ जाता   Parveen Shakir Ki Shayari urdu     यूं बिछड़ना भी बहुत आसां न था उस से मगर जाते जाते उस का वो मुड़ कर दोबारा देखना कांप उठती हूँ मैं ये सोच के तन्हाई में मेरे चेहरे पे तिरा नाम न पढ़ ले कोई   परवीन शाकिर की शायरी वीडियो उस के यूं तर्क-ए-मोहब्बत का सबब होगा कोई जी नहीं ये मानता वो बेवफ़ा पहले से था हाथ मेरे भूल बैठे दस्तकें देने का फ़न बंद मुझ पर जब से उस के घर का दरवाज़ा हुआ Parveen Shakir Ke Sher Urdu Shayar उस बुत की बंदगी से न आजा

Diwali Special Recipe 2020 : Make Comfit and Malpua at Home घर पर बनाएं कलाकंद और मालपुआ | हिंदी शायरी एच

   घर पर बनाएं इतनी आसान तरीके से कलाकंद   Diwali Special Recipe 2020 : Make Fondant and Malpua at Home घर पर बनाएं कलाकंद और मालपुआ मेहमानों के लिए बनाएं यह स्पेशल मिठाई. कई बार आपको घर का बना हुआ डेजर्ट खाने का मन करता है ऐसे में आपको समझ नहीं आता कि क्या बनाएं तो आपको बताने जा रहे हैं कलाकंद बनाने की रेसिपी समाग्री पूर्ण क्रीम दूध – 1.5 लीटर स्पष्ट मक्खन – 1.5 चम्मच फिटकरी- कुचल- 1/4 चम्मच पिस्ता कटा हुआ- 1 बड़ा चमचा चीनी- 3 चम्मच   -एक मोटे तले वाले पैन में दूध उबालें. आंच को धीमा कर दें और लगभग 15 मिनट तक उबलने दें. समय-समय पर दूध को  हिलाते रहें ताकि वह पैन से न चिपके. -दूध में फिटकरी मिला कर मिलाएं. दूध को तब तक हिलाते रहें जब तक वह दानेदार न हो जाए और दूध को तब तक पकाएं जब तक वह एक ठोस में न बदल जाए. ये भी पढ़ें- Diwali Special : ड्राई फ्रूट के लड्डू ऐसे बनाएं – गाढ़े दूध में चीनी डालकर अच्छी तरह मिलाएं. एक और 5 मिनट तक लगातार हिलाते रहें. मक्खन के साथ एक ट्रे ले लो. ट्रे में गाढ़ा दूध का मिश्रण डालें और सतह को चिकना करें. ऊपर से कटा हुआ पिस्ता छिड़कें.   -ट्रे को एक तरफ रखें

ईजी हर्बल concoction: प्रदूषण में फेफड़ों और मौसमी बीमारी से बचने के लिए एक्सपर्ट ने सुझाए ये उपाय । हिन्दी शायरी एच

  ईजी हर्बल concoction ईजी हर्बल कंकोक्शन मौसम में बदलाव आ रहा है। एक तरफ जहां कोरोना महामारी ने दुनिया को हलकान किया हुआ है, वहीं सर्दी के शुरू होते ही पॉल्यूशन दूसरी बड़ी परेशानी साबित हो रहा है। पॉल्यूशन इस कदर बढ़ रहा है कि सांस तक लेना दूभर हो रहा है। इस माहौल में सांस की तकलीफें बढ़ रही हैं, खासकर उन लोगों के लिए ये माहौल बेहद परेशान करने वाला है जिन्हें सांस की तकलीफ है। पोल्यूशन का सबसे ज्यादा असर हमारे फेफड़ों पर पड़ रहा है। कोरोना और पॉल्यूशन की इस दोहरी मार में हमें अपने लंग की सेहत का ख्याल रखना बहुत जरूरी है। ऐसे में इम्यून यानी शरीर के अंदर रोग प्रतिरोधक क्षमता की मजबूती बेहद महत्वपूर्ण है। इम्यून सिस्टम के लिए कोरोना काल में कई तरह के नुस्खे आजमाए गए हैं लेकिन अगर मामला लंग का हो तो इसकी एक्स्ट्रा केयर करना बहुत जरूरी है। View this post on Instagram That delicious winter nip in the air is here. Unfortunately, pollution levels are on the rise as well. :-( #covi̇d19 has ensured that all of us wear proper N95 masks when stepping out and covering our eyes

Diwali Special Recipe 2020 : ड्राई फ्रूट के लड्डू ऐसे बनाएं Hindishayarih

ड्राई फ्रूट के लड्डू   Diwali Special Recipe 2020 : ड्राई फ्रूट के लड्डू ऐसे बनाएं घर पर ऐसे बनाएं ड्राई फ्रूट्स के लड्डू , गिफ्ट देने में भी कर सकते हैं इस्तेमाल. दोस्तों आज हम बनाने जा रहे हैं ड्राई फ्रूट का लड्डू जो एनर्जी से भरपूर होता है. इस लड्डू को आप चाहे तो अपने घर पर भी बना सकते हैं. यह लड्डू स्वादिष्ट होने के साथ- साथ फायदेमंद भी होता है. ये भी पढ़ें-   Diwali Special Recipe 2020: Make Peas Gujiya at Home समाग्री     1/2 कप बादाम कटे हुए     1/2 कप काजू कटे हुए     1/2 कप अखरोट कटे हुए     1/4 कप पिस्ता     1 टी स्पून छोटी इलायची पाउडर     4 टेबलस्पून देसी घी     1/4 कप किशमिश     1 कप चीनी     3 कप नारियल कद्दूकस किया     विधि     -लड्डू बनाने के लिए सबसे पहले एक पैन में एक टेबलस्पून घी डालकर गर्म होने के लिए रख दे.अब इसमें बादाम,काजू डालकर चलाते हुए हल्की आंच पर रोस्ट कर ले. -दो मिनिट काजू,बादाम को भूनने के बाद इसमें अखरोट, पिस्ता ओर किशमिश डालकर सभी चीजों को स्लो गैस पर हल्का सा भून ले. -नारियल से लड्डू में बाई डि ग अच्छे से हो जाती है.जब नारियल में कर्चिपन आ जाए तो गैस

Hindi Kahani Lamho Ne ki Khata लम्हों ने खता की थी - Hindi Shayarih

    लम्हों ने खता की थी   मैं ने इस स्थिति में एक प्रख्यात नारी सामाजिक कार्यकर्ता से बात की तो वह बड़ी जोश में बोली कि परिवार के लोगों और युगयुगों से चली आ रही सामाजिक संस्था विवाह की अवहेलना कर के और वयस्क होने तथा विरोध नहीं करने पर भी शारीरिक संबंध बनाना स्वार्थी. गुरमीत पाटनकर के 30 साल के लंबे सेवाकाल में ऐसा पेचीदा मामला शायद पहली दफा सामने आया था. इस बहुराष्ट्रीय कंपनी में पिछले वर्ष पीआरओ पद पर जौइन करने वाली रिया ने अपनी 6 वर्ष की बच्ची के लिए कंपनी द्वारा शिक्षण संबंधित व्यय के पुनर्भरण के लिए प्रस्तुत आवेदन में बच्ची के पिता के नाम का कौलम खाली छोड़ा था. अभिभावक के नाम की जगह उसी का नाम और हस्ताक्षर थे. उन्होंने जब रिया को अपने कमरे में बुला कर बच्ची के पिता के नाम के बारे में पूछा तो वह भड़क कर बोली थी, ‘‘इफ क्वोटिंग औफ फादर्स नेम इज मैंडेटरी, प्लीज गिव मी बैक माइ एप्लीकेशन. आई डोंट नीड एनी मर्सी.’’ और बिफरती हुई चली गई थी. पाटनकर सोच रहे थे, अगर इस अधूरी जानकारी वाले आवेदनपत्र को स्वीकृत करते हैं तो वह (रिया) भविष्य में विधिक कठिनाइयां पैदा कर सकती है और अस्वीकृत कर देते

Kahani Opaque Truth: How Was the Emptiness Between Tanuja and Manish हिंदी शायरी एच

  अपारदर्शी सच : तनुजा और मनीष के बीच कैसा था खालीपन   सही गलत से परे अपनी आदिम इच्छाएं पूरी करने के लिए एक औरत शादी की दहलीज भी लांघ सकती है? शायद नहीं. तनुजा और मनीष के बीच का वैवाहिक खालीपन भी तनुजा को इसी रास्ते पर चलने को मजबूर कर रहा था. रात के 11 बज चुके थे. तनुजा की आंखें नींद और इंतजार से बोझिल हो रही थीं. बच्चे सो चुके थे. मम्मीजी और मनीष लिविंगरूम में बैठे टीवी देख रहे थे. तनुजा का मन हो रहा था कि मनीष को आवाज दे कर बुला ले, लेकिन मम्मी की उपस्थिति के लिहाज के चलते उसे ठीक नहीं लगा. पानी पीने के लिए किचन में जाते हुए उस ने मनीष को देखा पर उन का ध्यान नहीं गया. पानी पी कर भी अतृप्त सी वह वापस कमरे में आ गई. बिस्तर पर बैठ कर उस ने एक नजर कमरे पर डाली. उस ने और मनीष ने एकदूसरे की पसंदनापसंद का खयाल रख कर इस कमरे को सजाया था. हलके नीले रंग की दीवारों में से एक पर खूबसूरत पहाड़ी, नदी से गिरते झरने और पेड़ों की पृष्ठभूमि से सजी पूरी दीवार के आकार का वालपेपर. खिड़कियों पर दीवारों से तालमेल बिठाते नैट के परदे, फर्श से छत तक की अलमारियां, तरहतरह के सौंदर्य प्रसाधनों से भरी अंडाकार का

Diwali Special Recipe 2020: Make Peas Gujiya at Home, Serve Guests with Tea

  Diwali Special: घर पर बनाएं मटर की गुजिया, मेहमान को चाय के साथ करे सर्व   Diwali Special Recipe 2020: Make Peas Gujiya at Home, Serve Guests with Tea घर पर बनाएं मटर की गुजिया, मेहमान को चाय के साथ करे सर्व   इतनी टेस्टी गुजिया आपने कभी नहीं खाई होगी. आइए जानते हैं टेस्टी गुजिया बनाने की विधि. वैसे तो आपने अभी तक मीठी गुजिया खाई होगी लेकिन आज हम आपको कुछ चटपटी नमकीन गुजिया बनाना बता रही हूं. जो मटर से बनती है. सामग्री : मैदा- 1-1/2 कप सूजी- 3 चम्मच नमक- 1/2 चम्मच घी- 3 चम्मच पानी- आवश्यकतानुसार भरावन के लिए उबला मटर- 2 कप कद्दूकस किया पनीर- 1/2 कप कद्दूकस किया नारियल- 1/2 कप ये भी पढ़ें- Diwali Special : आटे पर बनाएं आटे की बर्फी कटी मिर्च- 2 भुना जीरा- 2 चम्मच हींग- 1/2 चम्मच अजवाइन- 2 चम्मच बारीक कटी धनिया पत्ती- 1/2 कप बारीक कटी पुदीना पत्ती- 4 चम्मच नीबू का रस- 1 चम्मच नमक- स्वादानुसार तेल- आवश्यकतानुसार   विधि : -एक बरतन में मैदा, सूजी, नमक और घी डालकर अच्छी तरह से मिलाएं. आवश्यकतानुसार पानी की मदद से गूंद लें. गूंदे हुए मिश्रण को ढककर आधे घंटे के लिए छोड़ दें. -मिक्सर-ग्राइंडर