Joke - Bulati Hai Magar Jane ka Nahi, Hindi Latest Jokes सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Joke - Bulati Hai Magar Jane ka Nahi, Hindi Latest Jokes

Joke - Bulati Hai Magar Jane ka Nahi, Hindi Latest Jokes
Joke - Bulati Hai Magar Jane ka Nahi, Hindi Latest Jokes


बुलाती है मगर जाने का नही . . . .
 चिकन सस्ता है मगर खाने का नही . .




केसी लगी ऊपरवाले की धारा ( 144 ) ? ?
मार्केट बंद , सिनेमा हॉल बंद ,
शोपिंग मॉल बंद , स्कूल | बंद ,
मैच रद्द , लोगों के मुंह भी बंद . . !




ब्रेकिंग न्यूज कोरोना के चलते
महिलाएं नहीं हो पा रही एकत्रित . .
 चुगली में आई भारी गिरावट




कोरोना को रविवार को बेवकूफ बनाएंगे
उसे लगेगा यहां कोई नहीं रहता हैं Master
और फिर वो सोमवार को सवेरे
वाली गाड़ी से चाइना चला जागा





एक मच्छर उदास बैठा था
तभी दुसरा मच्छर आया और
 उसकी उदासी का कारण पूछा . .
jokes '
तो वो बोला कोरोना वाइरस की
 वजह से किसी इंसान को काट भी नहीं
सकते भूखमरी के दिन आ गय है



चमगादड़ का सूप चाइना वाले पीते रहे
और परेशान उन लोगों को कर दिया ,
जो जिंदगी भर पूछते रहे ।
 ' केक में अंडा तो नही '







पति-पत्नी विदेश घूमने जा रहे थे...
.
पत्नी - अगर मैं वहां खो गई, तो आप
मुझे कैसे ढूंढोगे...?

पति - मैं सभी रास्तों पर गुमशुदगी के
पोस्टर लगा दूंगा...!

पत्नी - वाह जानू, क्या लिखोगे पोस्टर में?

पति - जिसको भी मिली, उसी की...!!!







पप्पू - बाबाजी, विश्वास और अंधविश्वास में क्या फर्क है?
.
.
बाबा - जिसने दारू दी, वह नमकीन भी देगा,
ये है विश्वास...
लेकिन, जिसने नमकीन दी, वह दारू भी देगा,
ये है अंधविश्वास...!!!

पप्पू बेहोश...








पत्नी - ये तुम हर रोज ऊपर हवा में
पत्थर क्यों मारते हो...?
.
.
पति ने बड़ी मासूमियत से जवाब दिया-
कहते हैं जोड़ियां ऊपर वाला बनाता है...!!!








शादी क्या होती है...?
यह समझने के लिए एक वैज्ञानिक ने शादी कर ली!
.
अब उसको ये समझ नहीं आ रहा है कि...
.
विज्ञान क्या होता है...!!!







ज्योतिष - तुम्हें होने वाले पति का भविष्य जानना है...?
.
.
.
लड़की - भविष्य तो मैं तय करूंगी, आप को बस
भूतकाल बताओ उसका...!!!









पप्पू - मैं फेल होना चाहता हूं...!

दोस्त - क्यों?

पप्पू - पापा ने कहा है कि
फर्स्ट आया तो साइंस,
सेकेंड आया तो आर्ट्स...
.
और...
.
फेल हुआ तो शादी करा दूंगा तेरी...!!!

दोस्त बेहोश होते-होते बचा...








खूबसूरती और बदसूरती जैसा कुछ नहीं होता साहब...
.
क्योंकि...
.
मच्छर तो उनको भी काटता है, जिनकी शक्ल
अच्छी नहीं होती...!!!








अगर प्यार के चक्कर में पड़ जाओ ना...
.
तो...
.
गर्लफ्रेंड के कुत्ते के बीमार होने पर भी
रोना पड़ता है...!!!









एकदम सही बात...

बनना है तो टीवी रिमोट जैसे बनो...
.
जिसकी काम न आने पर भी
पीठ थपथपाई जाती है...!!!

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

एक दिन अचानक हिंदी कहानी, Hindi Kahani Ek Din Achanak

एक दिन अचानक दीदी के पत्र ने सारे राज खोल दिए थे. अब समझ में आया क्यों दीदी ने लिखा था कि जिंदगी में कभी किसी को अपनी कठपुतली मत बनाना और न ही कभी खुद किसी की कठपुतली बनना. Hindi Kahani Ek Din Achanak लता दीदी की आत्महत्या की खबर ने मुझे अंदर तक हिला दिया था क्योंकि दीदी कायर कदापि नहीं थीं. फिर मुझे एक दिन दीदी का वह पत्र मिला जिस ने सारे राज खोल दिए और मुझे परेशानी व असमंजस में डाल दिया कि क्या दीदी की आत्महत्या को मैं यों ही व्यर्थ जाने दूं? मैं बालकनी में पड़ी कुरसी पर चुपचाप बैठा था. जाने क्यों मन उदास था, जबकि लता दीदी को गुजरे अब 1 माह से अधिक हो गया है. दीदी की याद आती है तो जैसे यादों की बरात मन के लंबे रास्ते पर निकल पड़ती है. जिस दिन यह खबर मिली कि ‘लता ने आत्महत्या कर ली,’ सहसा विश्वास ही नहीं हुआ कि यह बात सच भी हो सकती है. क्योंकि दीदी कायर कदापि नहीं थीं. शादी के बाद, उन के पहले 3-4 साल अच्छे बीते. शरद जीजाजी और दीदी दोनों भोपाल में कार्यरत थे. जीजाजी बैंक में सहायक प्रबंधक हैं. दीदी शादी के पहले से ही सूचना एवं प्रसार कार्यालय में स्टैनोग्राफर थीं. लता

Hindi Family Story Big Brother Part 1 to 3

  Hindi kahani big brother बड़े भैया-भाग 1: स्मिता अपने भाई से कौन सी बात कहने से डर रही थी जब एक दिन अचानक स्मिता ससुराल को छोड़ कर बड़े भैया के घर आ गई, तब भैया की अनुभवी आंखें सबकुछ समझ गईं. अश्विनी कुमार भटनागर बड़े भैया ने घूर कर देखा तो स्मिता सिकुड़ गई. कितनी कठिनाई से इतने दिनों तक रटा हुआ संवाद बोल पाई थी. अब बोल कर भी लग रहा था कि कुछ नहीं बोली थी. बड़े भैया से आंख मिला कर कोई बोले, ऐसा साहस घर में किसी का न था. ‘‘क्या बोला तू ने? जरा फिर से कहना,’’ बड़े भैया ने गंभीरता से कहा. ‘‘कह तो दिया एक बार,’’ स्मिता का स्वर लड़खड़ा गया. ‘‘कोई बात नहीं,’’ बड़े भैया ने संतुलित स्वर में कहा, ‘‘एक बार फिर से कह. अकसर दूसरी बार कहने से अर्थ बदल जाता है.’’ स्मिता ने नीचे देखते हुए कहा, ‘‘मुझे अनिमेष से शादी करनी है.’’ ‘‘यह अनिमेष वही है न, जो कुछ दिनों पहले यहां आया था?’’ बड़े भैया ने पूछा. ‘‘जी.’’ ‘‘और वह बंगाली है?’’ बड़े भैया ने एकएक शब्द पर जोर देते हुए पूछा. ‘‘जी,’’ स्मिता ने धीमे स्वर में उत्तर दिया. ‘‘और हम लोग, जिस में तू भी शामिल है, शुद्ध शाकाहारी हैं. वह बंगाली तो अवश्य ही

Maa Ki Shaadi मां की शादी- भाग 1: समीर अपनी बेटी को क्या बनाना चाहता था?

मां की शादी- भाग 1: समीर अपनी बेटी को क्या बनाना चाहता था? मां की शादी- भाग 1: समीर अपनी बेटी को क्या बनाना चाहता था? समीर की मृत्यु के बाद मीरा के जीवन का एकमात्र मकसद था समीरा को सुखद भविष्य देना. लेकिन मीरा नहीं जानती थी कि समीरा भी अपनी मां की खुशियों को नए पंख देना चाहती थी. संध्या समीर और मैं ने, परिवारों के विरोध के बावजूद प्रेमविवाह किया था. एकदूसरे को पा कर हम बेहद खुश थे. समीर बैंक मैनेजर थे. बेहद हंसमुख एवं मिलनसार स्वभाव के थे. मेरे हर काम में दिलचस्पी तो लेते ही थे, हर संभव मदद भी करते थे, यहां तक कि मेरे कालेज संबंधी कामों में भी पूरी मदद करते थे. कई बार तो उन के उपयोगी टिप्स से मेरे लेक्चर में नई जान आ जाती थी. शादी के 4 वर्षों बाद मैं ने प्यारी सी बिटिया को जन्म दिया. उस के नामकरण के लिए मैं ने समीरा नाम सुझाया. समीर और मीरा की समीरा. समीर प्रफुल्लित होते हुए बोले, ‘‘यार, तुम ने तो बहुत बढि़या नामकरण कर दिया. जैसे यह हम दोनों का रूप है उसी तरह इस के नाम में हम दोनों का नाम भी समाहित है.’’ समीरा को प्यार से हम सोमू पुकारते, उस के जन्म के बाद मैं ने दोनों परिवारों मे