hindishayarih सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

संदेश

Reliance Jio To Launch 4g Enabled Laptop Called Jiobook At Rs 15000 | 'रिलायंस जियो जिओबुक'

Reliance Jio  जिओबुक : 15,000 रुपये में लॉन्च हो सकता है ' जियो का 4g लैपटॉप , विंडोज का भी मिलेगा सपोर्ट      जियो का 4g लैपटॉप   JioBook के लिए रिलायंस ने माइक्रोसॉफ्ट और क्वॉलकॉम के साथ साझेदारी की है। JioBook में क्वॉलकॉम का प्रोसेसर मिलेग और माइक्रोसॉफ्ट की विंडोज मिलेगी। JioBook में माइक्रोसॉफ्ट के कुछ एप्स प्री-इंस्टॉल मिलेंगे, हालांकि जियो की ओर से अभी तक इस पर कोई आधिकारिक बयान नहीं दिया गया है।   रिलायंस जियो के बजट लैपटॉप JioBook की लीक रिपोर्ट फिर से सामने आई है। रिपोर्ट के मुताबिक JioBook को 15,000 रुपये की रेंज में लॉन्च किया जाएगा और इसमें 4G सिम कार्ड का सोपर्ट मिलेगा। JioBook की कीमत का दावा समाचार एजेंसी रॉयटर ने किया है। रिपोर्ट के मुताबिक JioBook के लिए रिलायंस ने माइक्रोसॉफ्ट और क्वॉलकॉम के साथ साझेदारी की है। JioBook में क्वॉलकॉम का प्रोसेसर मिलेग और माइक्रोसॉफ्ट की विंडोज मिलेगी। JioBook में माइक्रोसॉफ्ट के कुछ एप्स प्री-इंस्टॉल मिलेंगे, हालांकि जियो की ओर से अभी तक इस पर कोई आधिकारिक बयान नहीं दिया गया है। JioBook को खासतौर पर छात्रों के लिए पेश किया जाएगा।

नवयुग की नारी कविता | Navyug Ki Nari Poetry In Hindi - हिंदी शायरी एच

 नवयुग की नारी Poesy    रजनी पाण्डेय        नवयुग के निर्माण में  नारी भी कुछ योगदान दें ,  कुछ नव करें , नूतन करें  संसार को संवार दें ।  नवीन संतति के लिए एक  नई दुनिया रचें ,  मात्र सभ्य दिखें नहीं ,  सभ्य संस्कृति भी गढ़ें ।          आधुनिकता को महज  वस्त्रों से साबित न करें ,  कार्य और विचार में भी  आधुनिक कुछ हम बनें ।  संस्कृति के नाम पर  जाति , धर्म चाहे न दें ,  पर नई पीढ़ी को हम ,  संस्कार से सिंचित करें ।        भेद न संतति में हो , बेटी  अजन्मी न रहें ,  बेटे को ये संस्कार दें ,  बेटी भी निर्भय जी सकें ।  अब न अपनी बेटियां  सड़कों पे चलने से डरें ,  उनका भी तो सम्मान है ,  हर मां ये बेटों से कहे ।          प्रथम गुरु जननी है ,  जो जब स्वयं आगे आएगी ,  बेटे को सुसंस्कार दे मां  का फर्ज निभाएगी ।  जब हर मां बेटों के मन  में बेटी का मान जगाएगी ,  उस दिन वह नारी मां नहीं ,  मो जगदंबा कहलाएगी ।

Navratri Special Vrat Recipes 2022 How To Make Lauki Ki Barfi Recipe In Hindi - 'नवरात्रि रेसिपी' 2022

 Navratri Recipe: नवरात्रि में मीठा खाने का है मन, तो इस रेसिपी से बनाएं स्वादिष्ट लौकी की बर्फी Navratri special recipes | navratri special recipes in hindi | navratri special fast recipes | navratri special fast recipes in hindi     'नवरात्रि रेसिपी' 2022 2022 Navratri Special Vrat Recipes : नवरात्रि के नौ दिन जो लोग उपवास करते हैं, वह फलाहार का सेवन करके व्रत रखते हैं। नौ दिनों तक फलाहारी भोजन करने वालों के लिए बहुत विकल्प होते हैं। वह कई ऐसी डिश बना सकते हैं, जो नवरात्रि उपवास में खाई जाती है। शरीर की ऊर्जा बनाए रखने के लिए उपवास के पोषण की पूर्ति भी जरूरी है। ऐसे में व्रत में पौष्टिक फलाहारी आहार को अपनी नवरात्रि डाइट चार्ट प्लान में शामिल कर सकते हैं। नवरात्रि में आलू, लौकी जैसी सब्जियों का सेवन किया जा सकता है। आप इन्हीं सब्जियों से कई तरह के फलाहारी लजीज व्यंजन बना सकते हैं। नवरात्रि के मौके पर फलाहारी व्यंजन से मुंह मीठा करना हो तो मिठाई बना सकते हैं। सामान्य खोए की बर्फी तो आपने खाई ही होगी, लेकिन शरीर में पौष्टिकता की पूर्ति के साथ स्वाद के लिए लौकी की बर्फी नवरा

How to make Delicious Moong Dal Pizza and Chocolate Petha Recipe | 'मूंग दाल पिज़्ज़ा' और 'चॉकलेट पेठा

ऐसे बनाये डेलीसियस मूंग दाल पिज़्ज़ा और चॉकलेट पेठा रेसिपी in hindi  चॉकलेट पेठा       चॉकलेट पेठा    सामग्री  250 ग्राम धुली मूंग दाल 01 कप बारीक कटी सब्जियां ( शिमला मिर्च , टमाटर , प्याज , बंदगोभी , गाजर , बीन्स , फूलगोभी ) 01 कप चीज ( कसा हुआ ) 01 चम्मच हरा धनिया ( बारीक कटा ) 2-3 हरी मिर्च ( बारीक कटी ) 8-10 ब्रेड स्लाइस स्वादानुसार नमक और लाल मिर्च    ऐसे बनाएं मूंग दाल साफ करके भी ले । अब 2-3 घंटे के लिए भिगो दें । भीगी हुई दाल से मिक्सी में बारीक पेस्ट तैयार करें । पेस्ट में स्वादानुसार नमक और लाल मिर्च पाउडर मिला दें । तवा गरम करके उस पर थोड़ा - सा तेल हालें । जब तेल गरम हो जाए तो गैस धीमी कर दें । ब्रेड के एक टुकड़े को गूंग दाल के पेस्ट में डिप करके गरम तवे पर डाल दें । ब्रेड के ऊपरी हिस्से पर बारीक कटी हरी सब्जियां डालकर थोड़ा - सा चीज बुरक कर पकने दें । तवे पर ब्रेड के चारो तरफ थोड़ा - सा तेल भी डालें और पलटकर सब्जी वाली तरफ से सेक लें । गरमागरम मूंग दाल पिज्जा हरी चटनी या सॉस के साथ सर्व करें ।   मूंग दाल पिज़्ज़ा   मूंग दाल पिज़्ज़ा  सामग्री  2.5 किलो सफेद पेठा 800 ग्रा

Jigar Moradabadi Selected Sayari Collection - Jigar Moradabadi Shayari: जिगर मुरादाबादी के चुनिंदा शेर

Jigar Moradabadi Selected Sayari Collection | जिगर मुरादाबादी के चुनिंदा शेर Jigar moradabadi sher , jigar moradabadi shayari, jigar moradabadi ke sher, jigar moradabadi ki shayari, जिगर मुरादाबादी के शेर, जिगर मुरादाबादी की शायरी     हम इश्क़ के मारों का इतना ही फ़साना है रोने को नहीं कोई हँसने को ज़माना है तेरी बातों से आज तो वाइज़ वो जो थी ख़्वाहिश-ए-नजात गई जीते जी और तर्क-ए-मोहब्बत मर जाना आसान नहीं है क्या ख़बर थी ख़लिश-ए-नाज़ न जीने देगी ये तिरी प्यार की आवाज़ न जीने देगी आँखों में नूर जिस्म में बन कर वो जाँ रहे या'नी हमीं में रह के वो हम से निहाँ रहे नियाज़ ओ नाज़ के झगड़े मिटाए जाते हैं हम उन में और वो हम में समाए जाते हैं बराबर से बच कर गुज़र जाने वाले ये नाले नहीं बे-असर जाने वाले पी रहा हूँ आँखों आँखों में शराब अब न शीशा है न कोई जाम है सब पे तू मेहरबान है प्यारे कुछ हमारा भी ध्यान है प्यारे इश्क़ पर कुछ न चला दीदा-ए-तर का क़ाबू उस ने जो आग लगा दी वो बुझाई न गई  

'पाटवडी' Patwdi Recipe in Hindi

  पाटवडी सामग्री  01 कप बेसन दरदरा पिसा 01 बड़ा चम्मच कटा हरा धनिया 1/2 बड़ा चम्मच सूजी 1/4 छोटा चम्मच हल्दी पाउडर 01 चुटकी हींग 02 बड़े चम्मच अदरक - लहसुन पेस्ट 1/2 छोटा चम्मच हरी मिर्च का पेस्ट 01 छोटा चम्मच भुने सफेद तिल 01 बड़ा चम्मच नारियल ( कसा हुआ ) 1/4 छोटा चम्मच राई के दाने 01 छोटा चम्मच नींबू का रस 01 छोटा चम्मच चीनी 05 करी पत्ते ( बारीक कटे ) स्वादानुसार नमक 01 बड़ा चम्मच तेल सजाने के लिए  कसा हुआ नारियल , भुने सफेद तिल और कटा हरा धनिया । ऐसे बनाएं  कड़ाही में एक छोटा चम्मच तेल डालकर बेसन और सूजी को मध्यम आंच पर खुशबू आने तक भूनने के बाद निकाल लें । अब कड़ाही में तेल डालकर उसमें राई के दाने डालें । इसमें हींग और करी पत्ता डालकर चलाएं । फिर अदरक - लहसुन पेस्ट , हरी मिर्च का पेस्ट और हल्दी पाउडर डालें । अब भुना हुआ बेसन , सूजी और नमक डाल दें । गरम पानी डालकर सबको जल्दी - जल्दी मिलाएं और नींबू का रस डालकर ढक्कन बंद करके पांच से सात मिनट भाप आने दें । एक थाली में चिकनाई लगाकर तुरंत इस मिश्रण को फैला दें और उसके ऊपर सफेद तिल , कसा नारियल और कटा हरा धनिया अच्छी तरह फैला दें । थोड़

Desi Hunar Top 10 Sher - Hunar Shayari: 'हुनर' पर कहे गए 10 चुनिंदा शेर Hunar shayari हिंदी शायरी एच

Hunar shayari  | desi hunar shayari,       ग़ज़लों का हुनर अपनी आँखों को सिखाएँगे रोएँगे बहुत लेकिन आँसू नहीं आएँगे ~ बशीर बद्र उँगलियों के हुनर से ऐ 'अकमल' शक्ल पाती है चाक पर मिट्टी ~ अकमल इमाम जाऊँ कहाँ शुऊ'र-ए-हुनर किस के पास है आँखें हैं सब के पास नज़र किस के पास है ~ असद जाफ़री ग़लतियाँ अपनी न हों फिर भी मनाने का हुनर इतना आसान नहीं ख़ुद को मिटाने का हुनर ~ चाँद अकबराबादी हुनर-मंदी से जीने का हुनर अब तक नहीं आया सफ़र करते रहे तर्ज़-ए-सफ़र अब तक नहीं आया ~ ख़ालिद महमूद रोती आँखों को हँसाने का हुनर ले के चलो घर से निकलो तो ये सामान-ए-सफ़र ले के चलो ~ अहमद वसी संग पर फूल खिलाने का हुनर आता है मुझ को एहसास जगाने का हुनर आता है ~ कलीम शादाब ये हुनर भी बड़ा ज़रूरी है कितना झुक कर किसे सलाम करो ~ हफ़ीज़ मेरठी हर काम यूँ करो कि हुनर बोलने लगे मेहनत दिखे सभी को असर बोलने लगे ~ दिनेश कुमार नियत भाँपने का हुनर जानता है मिरा यार पढ़ना नज़र जानता है ~ ज़की तारिक़ बाराबंकवी   jeene ka hunar shayar i