Nimmi Aka, Nawab Banoo. Passes Away And Amitabh Bachchan Shared The Idea For Corona सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Nimmi Aka, Nawab Banoo. Passes Away And Amitabh Bachchan Shared The Idea For Corona




Nimmi Aka, Nawab Banoo. Passes Away And Amitabh Bachchan Shared The Idea For Coro
Nimmi Aka, Nawab Banoo. Passes Away And Amitabh Bachchan Shared The Idea For Corona

अभिनेत्री निम्मी का मुंबई में निधन और कोरोना पर अमिताभ बच्चन ने दिया आइडिया, पांच खबरें




हिंदी सिनेमा में राजकपूर की पहली खोज मानी जाने वाली मशहूर अभिनेत्री निम्मी का बुधवार की शाम यहां मुंबई में हृदयगति रुक जाने से निधन हो गया। वह कुछ अरसे से बीमार चल रही थीं। सरला नर्सिंग होम में शाम छह बजे के करीब उन्होंने अंतिम सांस ली। निम्मी के पिता मेरठ के रहने वाले थे और निम्मी का जन्म आगरा में हुआ। वह 87 साल की थीं।



कोरोना वायरस के कहर के चलते पूरे देश में पीएम नरेंद्र मोदी ने 21 दिनों तक के लिए लॉकडाउन के आदेश दिए हैं। एक तरफ जहां कोरोना वायरस से देश की अर्थव्यवस्था पर असर पड़ा है तो वहीं दूसरी ओर सिनेमा जगत के ठहर जाने से लोगों के मनोरंजन पर भी भारी असर पड़ा है। लेकिन इस बीच अब सोशल मीडिया यूजर्स रामायण और महाभारत का दोबारा प्रसारण करने की मांग कर रहे हैं।




कोरोनावायरस (Coronavirus) के बढ़ते कहर के चलते पूरे देश में पीएम नरेंद्र मोदी ने 21 दिनों के लिए देश को लॉकडाउन के आदेश दिए हैं। ऐसे में आम लोगों के साथ ही साथ बॉलीवुड सितारे भी क्वारंटीन में हैं। अपने खाली वक्त में बॉलीवुड सेलेब्स सोशल मीडिया पर अपने फैंस को कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए सचेत कर रहे हैं। ऐसे में बॉलीवुड अभिनेता कार्तिक आर्यन (Kartik Aaryan) ने एक और अनोखा तरीका अपनाया है।






प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देश के नाम संदेश देते हुए एक बड़ा ऐलान किया। जिसके तहत देश को 21 दिन के लिए लॉकडाउन कर दिया गया है। केन्द्र सरकार के इस फैसले का समर्थन हर कोई कर रहा है। बॉलीवुड कलाकारों ने पीएम मोदी का समर्थन करते हुए लोगों से अपील की है कि वो अपने घरों से बाहर ना निकलें। तो वहीं अब टेलीविजन के कलाकारों ने भी इस फैसले का स्वागत किया है। सोशल मीडिया के जरिए इन कलाकारों ने लोगों से घर में ही रहने की अपील की है।





कोरोना वायरस के बढ़ते खतरे को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को लॉकडाउन का एलान कर दिया। अब लोगों को 21 दिनों तक अपने घरों में रहने के निर्देश दिए गए हैं। इस बीच कई लोग लगातार सोशल मीडिया पर जागरुकता फैलाने की कोशिश में जुटे हैं। बॉलीवुड सितारे भी इसमें बिलकुल पीछे नहीं हैं। खासकर अभिनेता अमिताभ बच्चन लगातार लोगों से घरों में रहने की अपील कर रहे हैं। इस बीच अभिनेता ने ट्विटर के जरिए एक सुझाव शेयर किया। अमिताभ ने बताया कि अगर देश में कोरोना संक्रमित लोगों का इलाज करने के लिए अस्पतालों की कमी होती तो उसे कैसे पूरा किया जा सकता है।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

एक दिन अचानक हिंदी कहानी, Hindi Kahani Ek Din Achanak

एक दिन अचानक दीदी के पत्र ने सारे राज खोल दिए थे. अब समझ में आया क्यों दीदी ने लिखा था कि जिंदगी में कभी किसी को अपनी कठपुतली मत बनाना और न ही कभी खुद किसी की कठपुतली बनना. Hindi Kahani Ek Din Achanak लता दीदी की आत्महत्या की खबर ने मुझे अंदर तक हिला दिया था क्योंकि दीदी कायर कदापि नहीं थीं. फिर मुझे एक दिन दीदी का वह पत्र मिला जिस ने सारे राज खोल दिए और मुझे परेशानी व असमंजस में डाल दिया कि क्या दीदी की आत्महत्या को मैं यों ही व्यर्थ जाने दूं? मैं बालकनी में पड़ी कुरसी पर चुपचाप बैठा था. जाने क्यों मन उदास था, जबकि लता दीदी को गुजरे अब 1 माह से अधिक हो गया है. दीदी की याद आती है तो जैसे यादों की बरात मन के लंबे रास्ते पर निकल पड़ती है. जिस दिन यह खबर मिली कि ‘लता ने आत्महत्या कर ली,’ सहसा विश्वास ही नहीं हुआ कि यह बात सच भी हो सकती है. क्योंकि दीदी कायर कदापि नहीं थीं. शादी के बाद, उन के पहले 3-4 साल अच्छे बीते. शरद जीजाजी और दीदी दोनों भोपाल में कार्यरत थे. जीजाजी बैंक में सहायक प्रबंधक हैं. दीदी शादी के पहले से ही सूचना एवं प्रसार कार्यालय में स्टैनोग्राफर थीं. लता

Hindi Family Story Big Brother Part 1 to 3

  Hindi kahani big brother बड़े भैया-भाग 1: स्मिता अपने भाई से कौन सी बात कहने से डर रही थी जब एक दिन अचानक स्मिता ससुराल को छोड़ कर बड़े भैया के घर आ गई, तब भैया की अनुभवी आंखें सबकुछ समझ गईं. अश्विनी कुमार भटनागर बड़े भैया ने घूर कर देखा तो स्मिता सिकुड़ गई. कितनी कठिनाई से इतने दिनों तक रटा हुआ संवाद बोल पाई थी. अब बोल कर भी लग रहा था कि कुछ नहीं बोली थी. बड़े भैया से आंख मिला कर कोई बोले, ऐसा साहस घर में किसी का न था. ‘‘क्या बोला तू ने? जरा फिर से कहना,’’ बड़े भैया ने गंभीरता से कहा. ‘‘कह तो दिया एक बार,’’ स्मिता का स्वर लड़खड़ा गया. ‘‘कोई बात नहीं,’’ बड़े भैया ने संतुलित स्वर में कहा, ‘‘एक बार फिर से कह. अकसर दूसरी बार कहने से अर्थ बदल जाता है.’’ स्मिता ने नीचे देखते हुए कहा, ‘‘मुझे अनिमेष से शादी करनी है.’’ ‘‘यह अनिमेष वही है न, जो कुछ दिनों पहले यहां आया था?’’ बड़े भैया ने पूछा. ‘‘जी.’’ ‘‘और वह बंगाली है?’’ बड़े भैया ने एकएक शब्द पर जोर देते हुए पूछा. ‘‘जी,’’ स्मिता ने धीमे स्वर में उत्तर दिया. ‘‘और हम लोग, जिस में तू भी शामिल है, शुद्ध शाकाहारी हैं. वह बंगाली तो अवश्य ही

Maa Ki Shaadi मां की शादी- भाग 1: समीर अपनी बेटी को क्या बनाना चाहता था?

मां की शादी- भाग 1: समीर अपनी बेटी को क्या बनाना चाहता था? मां की शादी- भाग 1: समीर अपनी बेटी को क्या बनाना चाहता था? समीर की मृत्यु के बाद मीरा के जीवन का एकमात्र मकसद था समीरा को सुखद भविष्य देना. लेकिन मीरा नहीं जानती थी कि समीरा भी अपनी मां की खुशियों को नए पंख देना चाहती थी. संध्या समीर और मैं ने, परिवारों के विरोध के बावजूद प्रेमविवाह किया था. एकदूसरे को पा कर हम बेहद खुश थे. समीर बैंक मैनेजर थे. बेहद हंसमुख एवं मिलनसार स्वभाव के थे. मेरे हर काम में दिलचस्पी तो लेते ही थे, हर संभव मदद भी करते थे, यहां तक कि मेरे कालेज संबंधी कामों में भी पूरी मदद करते थे. कई बार तो उन के उपयोगी टिप्स से मेरे लेक्चर में नई जान आ जाती थी. शादी के 4 वर्षों बाद मैं ने प्यारी सी बिटिया को जन्म दिया. उस के नामकरण के लिए मैं ने समीरा नाम सुझाया. समीर और मीरा की समीरा. समीर प्रफुल्लित होते हुए बोले, ‘‘यार, तुम ने तो बहुत बढि़या नामकरण कर दिया. जैसे यह हम दोनों का रूप है उसी तरह इस के नाम में हम दोनों का नाम भी समाहित है.’’ समीरा को प्यार से हम सोमू पुकारते, उस के जन्म के बाद मैं ने दोनों परिवारों मे