Best Hindi Aankh shayari collection 'आंखों की भाषा' पर कहे गए शेर

Best Hindi Aankh shayari collection

Best Hindi Aankh shayari collection 



आँखों में जो बात हो गई है
इक शरह-ए-हयात हो गई है
- फ़िराक़ गोरखपुरी

बहुत बेबाक आंखों में तआल्लुक टिक नहीं पाता 
मोहब्बत में कशिश रखने को शर्माना जरूरी है 
- वसीम बरेलवी 


आँख रहज़न नहीं तो फिर क्या है
लूट लेती है क़ाफ़िला दिल का
- जलील मानिकपूरी

 मैं जिसे ओढ़ता-बिछाता हूं वो ग़ज़ल आपको सुनाता हूं
 एक जंगल है तेरी आंखों में मैं जहाँ राह भूल जाता हूं..
 - दुष्यंत कुमार  


अब तक मेरी यादों से मिटाए नहीं मिटता
भीगी हुई इक शाम का मंज़र तेरी आंखें
 - मोहसिन नक़वी

उन आंखों में डाल कर जब आंखें उस रात
मैं डूबा तो मिल गए डूबे हुए जहाज़
 - अमीक़ हनफ़ी

उन मद-भरी आंखों की तारीफ़ हो क्या ज़ाहिद
देखो तो हैं दो साग़र समझो तो हैं मय-ख़ाना
- दुआ डबाईवी

एक आंसू भी हुकूमत के लिए ख़तरा है
तुमने देखा नहीं आंखों का समुंदर होना
-मुनव्वर राणा


इक हसीं आँख के इशारे पर 
क़ाफ़िले राह भूल जाते हैं 
- अब्दुल हमीद अदम

लड़ने को दिल जो चाहे तो आँखें लड़ाइए 
हो जंग भी अगर तो मज़ेदार जंग हो 
- लाला माधव राम जौहर



जब तिरे नैन मुस्कुराते हैं 
ज़ीस्त के रंज भूल जाते हैं 
- अब्दुल हमीद अदम



आँखें न जीने देंगी तिरी बे-वफ़ा मुझे 
क्यूँ खिड़कियों से झाँक रही है क़ज़ा मुझे 
- इमदाद अली बहर





एक चराग़ और एक किताब और एक उम्मीद असासा
उस के बाद तो जो कुछ है वो सब अफ़्साना है
- इफ़्तिख़ार आरिफ़


हम दुनिया से जब तंग आया करते हैं
अपने साथ इक शाम मनाया करते हैं
- तैमूर हसन


इश्क़ में भी सियासतें निकलीं
क़ुर्बतों में भी फ़ासला निकला
- रसा चुग़ताई


जलाने वाले जलाते ही हैं चराग़ आख़िर
ये क्या कहा कि हवा तेज़ है ज़माने की
- जमील मज़हरी

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां