Best Hindi Aangan Famous Shayari घर का आंगन शायरी पढे

 

Best Hindi Aangan Famous Shayari घर का आंगन शायरी पढे
aangan shayari in hindi

Aangan shayari  aangan ki shayari ghar ka aangan shayari आंगन शायरी आंगन शायरी इन हिंदी आंगन की शायरी घर का आंगन शायरी aangan drama shayari aangan poetry aangan serial shayari aangan shayari aangan drama dialogues aangan drama poetry attitude shayari rekhta funny shayari rekhta




हर आँगन में दिए जलाना हर आँगन में फूल खिलाना
इस बस्ती में सब कुछ करना हम से मोहब्बत मत करना
- क़मर जमील





aangan shayari in hindi

आँगन आँगन ख़ाना-ख़राबी हँसती है मे'मारों पर
पत्थर की छत ढाल रहे हैं शीशे की दीवारों पर
- एज़ाज़ अफ़ज़ल




जिस की सौंधी सौंधी ख़ुशबू आँगन आँगन पलती थी
उस मिट्टी का बोझ उठाते जिस्म की मिट्टी गलती थी
- हम्माद नियाज़ी



 ghar ka aangan shayari



इक शजर ऐसा मोहब्बत का लगाया जाए 
जिस का हम-साए के आँगन में भी साया जाए 
- ज़फर ज़ैदी


शजर आँगन का जब सूरज से लर्ज़ां होने लगता था
कोई साया मिरे घर का निगहबाँ होने लगता था
- नश्तर ख़ानक़ाही


 aangan poetry



तेरा मेरा झगड़ा क्या जब इक आँगन की मिट्टी है
अपने बदन को देख ले छू कर मेरे बदन की मिट्टी है
- सरदार अंजुम




मन के आँगन में ख़यालों का गुज़र कैसा है
ये चहकता हुआ वीरान सा घर कैसा है
- मोनी गोपाल तपिश

aangan drama dialogues 


ख़मोशी के हैं आँगन और सन्नाटे की दीवारें
ये कैसे लोग हैं जिन को घरों से डर नहीं लगता
- सलीम अहमद




तुम आओ तो घर के सारे दीप जला दूँ लेकिन आज
मेरा जलता दिल ही अकेला दीप है मेरे आँगन का
- अज़ीज़ बानो दाराब वफ़ा




तिरे आँगन में है जो पेड़ फूलों से लदा होगा
तिरे घर का जो रस्ता है बड़ा ही ख़ुशनुमा होगा
- शोभा कुक्कल


aangan attitude shayari


सलोनी शाम के आँगन में जब दो वक़्त मिलते हैं
भटकते हम से उन सायों में कुछ आधे अधूरे हैं
- दीपक क़मर



तू किसी सुब्ह सी आँगन में उतर आती है
मैं किसी धूप सा दालान में आ जाता हूँ
- ज़ियाउल मुस्तफ़ा तुर्क



हो गए आँगन जुदा और रास्ते भी बट गए
क्या हुआ ये लोग क्यूँ इक दूसरे से कट गए
- आनन्द सरूप अंजुम



सूना आँगन नींद में ऐसे चौंक उठा है
सोते में भी जैसे कोई सिसकी लेता है
- शारिक़ कैफ़ी

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां