Jokes Funny Hindi Jokes Husband Wife Jokes Jokes Hindi mMai छगनलाल का पेटखराब पत्नी बोली ऐसी बात पढ़िए मजेदार जोक्स सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Jokes Funny Hindi Jokes Husband Wife Jokes Jokes Hindi mMai छगनलाल का पेटखराब पत्नी बोली ऐसी बात पढ़िए मजेदार जोक्स

 

छगनलाल का पेटखराब  पत्नी बोली ऐसी बात पढ़िए मजेदार जोक्स
Jokes - Photos

 Jokes Funny Hindi Jokes Husband Wife Jokes Jokes Hindi  Mai छगनलाल का पेटखराब  पत्नी बोली ऐसी बात पढ़िए मजेदार जोक्स funny-hindi-jokes



छगनलाल का पेटखराब था .

 पत्नी बोली- " आजवाइन ले लो .

 छगनलाल शाम को टुन्न होकर घरआगया . 

क्योंकि उसने समझा .. " आज वाइन ले लो !

 

 

 

 

 अब समझ आया की हेरोइन की


ग्लोइंग त्वचा का राज़ लक्स नही ड्रग्स है








Me -तुम्हारी उम्र कितनी है ? 

She -20 Me -5 साल पहले भी तुमने यही कहा था ! 

She -देखा हम लड़कियां जुबान की कितनी पक्की होती हैं ! 







आप लोग IPL , IPL करते रहना ! 

वहाँ B4U Movies पर रूपा को फिर गुज्जर उठा ले गया







कभी भी कहीं पर ज्यादा दिन नहीं रुकना चाहिए

 वरना इज़्ज़त कम हो जाती है .... 

अब कोरोना को ही ले लो , 

जो इज़्ज़त मार्च में थी 

अब कहां ... न ... तालीयाँ ... न ...

 थालियां ... न ... दिया अब तो सिर्फ .. गालियाँ






इतिहास गवाह है , 

जब भी कोई RCB से भागा है 

वो अच्छा ही खेला है चाहे वो शेन वाटसन हो KL राहुल हो ,

 क्रिस गेल हो या MarcusStoinis पनौती तो RCB ही है






जिनकी शक्ल मिलती है ,

 वो भाई बहन होते हैं जिनकी अक्ल मिलती है ,

 वो * सच्चे दोस्त होते हैं  जिनकी न अक्ल मिलती है

 न शक्ल मिलती है , वो * पति पत्नी होते हैं






बेटा : पिताजी मैं 10TH पास होगया हूँ । 

आगे पढ़ाई करके डाक्टर बनूँगा और कोरोना की मेडिसिन बनाऊंगा . ! 

पिता : भगवान से डर 

बेटा , जिस कोरोना की वजह से बिना परीक्षा दिये पास हुआ 

उसी के साथ विश्वासघात करने की सोच रहा है ..







पढ़ाई करने वाले के लिए 2 लाइन / दिल लगाना है 

तो किताब से लगाना दोस्तो .. अगर बेवफ़ा भी हुई , 

तो काबिल बनाके छोड़ेगी






जेब से सेनेटाइजर की शीशी निकालो  

तो लोग ऐसे हाथ बढा देते हैं जैसे खैनी बंट रही हो







जीवन में कम से कम एक सच्चा मित्रहमेशा अपने पास रखो 

ताकि ..... जिस दिन आपके यहाँ तुरई , 

करेला या कुंदरू की सब्जी बने उस दिन उसके घर जाकर खाना खा सको






गधाः मेरा मालिक मुझे बहुत पीटता है ।

कुत्ताः तुम भाग क्यो नही जाते 

गधाः मालिक की खुबसूरत लडकी जब पढाई नही करती तो वो कहता है 

कि ... तेरी शादी गधे से कर दूंगा बस इसी उम्मीद से टिका हूँ

 

 

 



प्रेमी - मैं उस लड़की से शादी करुंगा, जो मेहनती हो,
सादगी से रहती हो, घर को संवारकर रखती हो,
आज्ञाकारी हो...!
.
.
प्रेमिका - मेरे घर आ जाना, ये सारे गुण
मेरी नौकरानी में हैं...!!

 





लड़की एटीएम के पास पप्पू से कहती है...
भईया मुझे अपना बैलेंस चेक करना है, आप मेरी मदद कर दीजिए।
.
पप्पू ने लड़की को एक जोर की लात मारी...
लड़की गिर गई...!
.
पप्पू (लड़की से) - आपका बैलेंस तो बहुत खराब है...!!!
....
फिर लड़की ने पप्पू को जमकर कूटा...

 






पति - क्या तुम मेरे जीवन का चांद बनोगी..?
.
पत्नी (खुश होकर) - हां जानू...!
.
पति - बहुत खूब, तो मुझसे 384,400 किलोमीटर दूर रहो...!!!
.
फिर पति की हुई जोरदार कुटाई...

 




एक चतुर महिला ने फेसबुक पर लिखा...
मन को वश में करना सीख रही हूं आजकल...
शिमला जाने का मन होता है, तो शिमला मिर्च खा लेती हूं...
मसूरी जाने का मन होता है, तो मसूर की दाल खा लेती हूं...
और उधमपुर जाने का मन होता है, तो घर में उधम मचा देती हूं...!!!

 







पति - सुनो, रात भर मोबाइल चार्जिंग पर
मत लगाना, बैट्री फट जाएगी...!!!
.
.
पत्नी - आप चिंता ना करें, मैं बैट्री निकाल कर
चार्जिंग पर लगाऊंगी...!!!

 




संता - शादी के कार्ड में वर-वधु के नाम के आगे लिखे
चि. और सौ. का क्या मतलब होता है...?
.
बंता - पता नहीं, तू ही बता दे...
.
संता - इसका मतलब होता है कि शादी के बाद
जब पत्नी उसे 'सौ' सुनाएगी, तब पति 'चि' भी नहीं करेगा...!!!

 





हॉरर फिल्म में जब लड़की को अजीब-अजीब आवाजें सुनाई
देती हैं तो वो ऐसे बोलती है - कौन है वहां...?
.
.
जैसे कि भूत उनको बोलेगा - अरे मैं हूं....
मैगी बना रहा हूं, खाएगी क्या...?

 





बीबी - चलो ना आज कही घूमने चलते हैं,
और हां ड्राइविंग मैं करुंगी….!!
.
.
पति - वाह…!!! मतलब जाएंगे कार में और
आएंगे कल के अखबार में…

 



इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

एक दिन अचानक हिंदी कहानी, Hindi Kahani Ek Din Achanak

एक दिन अचानक दीदी के पत्र ने सारे राज खोल दिए थे. अब समझ में आया क्यों दीदी ने लिखा था कि जिंदगी में कभी किसी को अपनी कठपुतली मत बनाना और न ही कभी खुद किसी की कठपुतली बनना. Hindi Kahani Ek Din Achanak लता दीदी की आत्महत्या की खबर ने मुझे अंदर तक हिला दिया था क्योंकि दीदी कायर कदापि नहीं थीं. फिर मुझे एक दिन दीदी का वह पत्र मिला जिस ने सारे राज खोल दिए और मुझे परेशानी व असमंजस में डाल दिया कि क्या दीदी की आत्महत्या को मैं यों ही व्यर्थ जाने दूं? मैं बालकनी में पड़ी कुरसी पर चुपचाप बैठा था. जाने क्यों मन उदास था, जबकि लता दीदी को गुजरे अब 1 माह से अधिक हो गया है. दीदी की याद आती है तो जैसे यादों की बरात मन के लंबे रास्ते पर निकल पड़ती है. जिस दिन यह खबर मिली कि ‘लता ने आत्महत्या कर ली,’ सहसा विश्वास ही नहीं हुआ कि यह बात सच भी हो सकती है. क्योंकि दीदी कायर कदापि नहीं थीं. शादी के बाद, उन के पहले 3-4 साल अच्छे बीते. शरद जीजाजी और दीदी दोनों भोपाल में कार्यरत थे. जीजाजी बैंक में सहायक प्रबंधक हैं. दीदी शादी के पहले से ही सूचना एवं प्रसार कार्यालय में स्टैनोग्राफर थीं. लता

Hindi Family Story Big Brother Part 1 to 3

  Hindi kahani big brother बड़े भैया-भाग 1: स्मिता अपने भाई से कौन सी बात कहने से डर रही थी जब एक दिन अचानक स्मिता ससुराल को छोड़ कर बड़े भैया के घर आ गई, तब भैया की अनुभवी आंखें सबकुछ समझ गईं. अश्विनी कुमार भटनागर बड़े भैया ने घूर कर देखा तो स्मिता सिकुड़ गई. कितनी कठिनाई से इतने दिनों तक रटा हुआ संवाद बोल पाई थी. अब बोल कर भी लग रहा था कि कुछ नहीं बोली थी. बड़े भैया से आंख मिला कर कोई बोले, ऐसा साहस घर में किसी का न था. ‘‘क्या बोला तू ने? जरा फिर से कहना,’’ बड़े भैया ने गंभीरता से कहा. ‘‘कह तो दिया एक बार,’’ स्मिता का स्वर लड़खड़ा गया. ‘‘कोई बात नहीं,’’ बड़े भैया ने संतुलित स्वर में कहा, ‘‘एक बार फिर से कह. अकसर दूसरी बार कहने से अर्थ बदल जाता है.’’ स्मिता ने नीचे देखते हुए कहा, ‘‘मुझे अनिमेष से शादी करनी है.’’ ‘‘यह अनिमेष वही है न, जो कुछ दिनों पहले यहां आया था?’’ बड़े भैया ने पूछा. ‘‘जी.’’ ‘‘और वह बंगाली है?’’ बड़े भैया ने एकएक शब्द पर जोर देते हुए पूछा. ‘‘जी,’’ स्मिता ने धीमे स्वर में उत्तर दिया. ‘‘और हम लोग, जिस में तू भी शामिल है, शुद्ध शाकाहारी हैं. वह बंगाली तो अवश्य ही

Maa Ki Shaadi मां की शादी- भाग 1: समीर अपनी बेटी को क्या बनाना चाहता था?

मां की शादी- भाग 1: समीर अपनी बेटी को क्या बनाना चाहता था? मां की शादी- भाग 1: समीर अपनी बेटी को क्या बनाना चाहता था? समीर की मृत्यु के बाद मीरा के जीवन का एकमात्र मकसद था समीरा को सुखद भविष्य देना. लेकिन मीरा नहीं जानती थी कि समीरा भी अपनी मां की खुशियों को नए पंख देना चाहती थी. संध्या समीर और मैं ने, परिवारों के विरोध के बावजूद प्रेमविवाह किया था. एकदूसरे को पा कर हम बेहद खुश थे. समीर बैंक मैनेजर थे. बेहद हंसमुख एवं मिलनसार स्वभाव के थे. मेरे हर काम में दिलचस्पी तो लेते ही थे, हर संभव मदद भी करते थे, यहां तक कि मेरे कालेज संबंधी कामों में भी पूरी मदद करते थे. कई बार तो उन के उपयोगी टिप्स से मेरे लेक्चर में नई जान आ जाती थी. शादी के 4 वर्षों बाद मैं ने प्यारी सी बिटिया को जन्म दिया. उस के नामकरण के लिए मैं ने समीरा नाम सुझाया. समीर और मीरा की समीरा. समीर प्रफुल्लित होते हुए बोले, ‘‘यार, तुम ने तो बहुत बढि़या नामकरण कर दिया. जैसे यह हम दोनों का रूप है उसी तरह इस के नाम में हम दोनों का नाम भी समाहित है.’’ समीरा को प्यार से हम सोमू पुकारते, उस के जन्म के बाद मैं ने दोनों परिवारों मे