Jokes: What Jokes Are Funny I Want Funny Jokes For Students In Hindi सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Jokes: What Jokes Are Funny I Want Funny Jokes For Students In Hindi

 

Jokes: What Jokes Are Funny I Want Funny Jokes For Students In Hindi
jokes jokes in hindi

Jokes: What Jokes Are Funny I Want Funny Jokes For Students In Hindi jokes hi jokes jokes hi jokes in hindi jokes hi jokes hindi जोक्स चुटकुले jokes hi jokes fb jokes jokes in telugu jokes hi jokes hindi me, जोक्स इन हिंदी, jokes jokes in hindi

 

 

 

 

पत्नी को उदास देखकर पति ने पूछा - तुम इतनी उदास क्यों लग रही हो,
गुमसुम बैठी हो... क्या सोच रही हो...?
.
.
पत्नी बोली - नहीं ऐसी कोई बात नहीं है,
बस कुछ दिनों से मुझे यह चिंता सता रही है कि
आखिर क्या कसर रह गई है मेरी 'कोशिशों' में जो
शादी के इतने सालों बाद भी तुम मुस्कुरा लेते हो...!!

 




लड़के की मां - खाना पकाना आता है?
लड़की - हां, और...
.
.
.
शादी के बाद उनको भी सिखा दूंगी...!!!

 

jokes jokes in urdu



टीचर ने साइंस लैब में अपनी जेब से एक सिक्का निकाला और एसिड में डाला,
फिर छात्र से पूछा - बताओ कि ये सिक्का घुल जाएगा या नहीं...?
.
छात्र - सर नहीं घुलेगा...
.
टीचर - शाबाश... लेकिन तुम्हें कैसे पता...?
.
छात्र - सर अगर एसिड में डालने से अगर सिक्का घुलता तो
आप सिक्का हमसे मांगते, ना कि अपनी जेब से निकालते...!!!

 







पति - तुमने तो सुबह कहा था कि रात के खाने में दो ऑप्शन होंगे,
लेकिन यहां तो एक ही सब्जी दिख रही है...?
.
.
पत्नी (शांत स्वर में) - ऑप्शन दो ही हैं...
1. खाना है तो खाओ
2. नहीं तो रहने दो...!

 


jokes hi jokes home facebook



पप्पू ने एक राह चलती अजनबी लड़की से कहा -
आपने पहचाना मुझे...?
.
लड़की - नहीं, आप कौन हो...?
.
पप्पू - मैं वही हूं, जिसे आपने कल भी नहीं पहचाना था...!!!

 






'मुझे भी देखने दो, किसका एक्सीडेंट हुआ है?'
पप्पू भीड़ को हटाते हुए बोला...
.
जब कोई हटा नहीं तो वह चिल्लाता हुआ बोला,
जिसका एक्सीडेंट हुआ है, मैं उसका पिता हूं।
.
रास्ता मिल गया और पप्पू ने देखा तो
एक गधा मरा पड़ा था...!!!

 

jokes hi jokes.com






कुछ हिंदी फिल्मी गीत, जो कुछ बीमारियों का वर्णन करते हैं...
गीत - जिया जले, जान जले, रात भर धुआं चले...
बीमारी - बुखार
.
गीत - तड़प-तड़प के इस दिल से आह निकलती रही...
बीमारी - हार्ट अटैक
.
गीत - सुहानी रात ढल चुकी है, न जाने तुम कब आओगे...
बीमारी - कब्ज
.
गीत - बीड़ी जलाई ले जिगर से पिया, जिगर में बड़ी आग है...
बीमारी - एसिडिटी
.
गीत - तुझमे रब दिखता है, यारा मैं क्या करूं....
बीमारी - मोतियाबिंद

गीत - तुझे याद न मेरी आई किसी से अब क्या कहना...
बीमारी - यादाश्त कमजोर
.
गीत - मन डोले मेरा तन डोले...
बीमारी - चक्कर आना
.
गीत - टिप-टिप बरसा पानी, पानी ने आग लगाई...
बीमारी - यूरिन इन्फेक्शन
.
गीत - जिया धड़क-धड़क जाए...
बीमारी - उच्च रक्तचाप
.
गीत - हाय रे हाय नींद नहीं आए...
बीमारी - अनिद्रा
.
और अंत में
.
गीत - लगी आज सावन की फिर वो झड़ी है...
बीमारी - दस्त

 



जोक्स इन हिंदी फॉर व्हाट्सएप्प | facebook hindi in jokes hi jokes




पप्पू - पैंट की सिलाई कितनी है...?
.
टेलर - 150 रुपये
.
पप्पू - और निक्कर की ?
.
पप्पू - ठीक है, एक निक्कर ही सिल दो लेकिन लंबाई पैरों तक रखना...

 






मास्टर जी - ये बताओ कि दुनिया में कितने देश हैं...?
.
.
पप्पू - सर, कर दी ना आपने पागलों वाली बात...
दुनिया में एक ही देश है भारत...
बाकी सब तो विदेश हैं...!!!

 






पति और पत्नी में जबरदस्त लड़ाई छिड़ी थी...
इतनी भंयकर कि पति ने मरने की धमकी दे डाली
और स्टूल पर चढ़कर फंदा पंखे में डालने की कोशिश करने लगा...
.
.
पत्नी (एकदम रिलैक्स होकर) - हो गया क्या जो करना चाह रहो हो,
जरा जल्दी करो, देर मत लगाओ,
मुझे स्टूल की जरूरत है...!!!



 

जोक्स शायरी | jokes hi jokes instagram






पुलिस वाले दरवाजा खटखटाते हैं...
.
महिला - कौन...?
.
पुलिस - जी हम पुलिस हैं, आपके पति का एक्सीडेंट हो गया है,
उनके ऊपर से गाड़ी गुजर गई है, वो एकदम पापड़ बन गए है...!
.
महिला - तो दरवाजा खोलने की क्या जरुरत है,
नीचे से ही सरका दो...!!!

 







शेरों-शायरी के शौकीन एक प्रेमी की दुखभरी दास्तां...
हसरत ए दीदार के लिए
उनकी गली में मोबाइल की दुकान खोली...
.
मत पूछो अब हालात-ए-बेबसी ए गालिब,
रोज एक नया शख्स उनके नंबर पर रिचार्ज करवाने आता है...!!!

 

jokes hi jokes images



पार्टी में सुन्दर लड़की से हंस हंस कर बातें कर रहे पति के पास पत्नी आई और बोली…..
चलिए, घर चल कर मैं आपकी चोट पर मरहम लगा दूंगी।
पति : पर मुझे चोट कहां लगी है?
पत्नी: अभी हम घर भी कहां पहुंचे हैं?


टीचर:- एक तरफ पैसा, दुसरी तरफ दिमाग, क्या चुनोगे ?

विद्यार्थीः पैसा.

टीचर:- गलत, मै दिमाग चुनती

विद्यार्थीः- आप सही कह रही हो मैडम,
जिसके पास जिस चीज की कमी होती है वो वही चुनता है ……………

दे थप्पड़ दे थप्पड़...

 







टीचर: बहुवचन किसे कहते है?

पप्पू: जब बहू अपने ससुराल वालों को खरी-खोटी सुनाती है, तो उसे बहुवचन कहते है।

अध्यापक जी बेहोश होते होते बचे।

--------------------------------------

अध्यापक: मैं जो पूछूं, उसका जवाब फटाफट देना।

छात्र: जी सर,

अध्यापक: भारत की राजधानी बताओ?

छात्र: फटाफट, इस पर टीचर गुस्सा हो गए।

छात्र: आपने ही तो कहा था कि जो पूछूं, जवाब फटाफट देना।

 

जोक्स इन हिंदी | jokes jokes in hindi





घर के बाहर इंतजार कर रहा पति बोला - अरे और कितनी देर लगाओगी ?

पत्नी ( गुस्से में ):- चिलाना बंद करो, एक घंटे से कह रही हूं पांच मिनट में आ रही हूं, समझ में नही आता क्या...

---------------------------------------------------------------------------

पुलिस (चोर से): तुम एक ही दुकान में तीन बार चोरी करने क्यों गए?

चोर: सर, चोरी तो मैंने पहली बार में ही अपनी पत्नी के लिए ड्रेस चुराकर कर ली थी। बाकी दो बार तो मुझे सिर्फ उसे बदलने के लिए जाना पड़ा।

 








पत्नी ने पति को तमाचा मार दिया...

पति तिलमिला उठा और पूछा - मैंने क्या गलती की?

पत्नी बोली - तुम कोई गलती करो,
उसके लिए मैं इंतजार थोड़े ही करती रहूंगी...!!!

 








पप्पू पैराशूट बेच रहा था...
.
हवाई जहाज से कूदो, बटन दबाओ
और जमीन पर सुरक्षित पहुंच जाओ...
.
ग्राहक - अगर पैराशूट नही खुला तो...?
.
पप्पू - तो पैसे वापिस कर दूंगा...!!

 








केमिस्ट - अगर इस दवाई से आराम ना मिले तो डॉक्टर का पर्चा फिर से लाना...
.
मरीज - ऐसा क्यों...?
.
केमिस्ट - मैं फिर से डॉक्टर की लिखी
दवाई पढ़ने की कोशिश करूंगा...!!!
.
मरीज बेहोश होते-होते बचा...

 

 

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

एक दिन अचानक हिंदी कहानी, Hindi Kahani Ek Din Achanak

एक दिन अचानक दीदी के पत्र ने सारे राज खोल दिए थे. अब समझ में आया क्यों दीदी ने लिखा था कि जिंदगी में कभी किसी को अपनी कठपुतली मत बनाना और न ही कभी खुद किसी की कठपुतली बनना. Hindi Kahani Ek Din Achanak लता दीदी की आत्महत्या की खबर ने मुझे अंदर तक हिला दिया था क्योंकि दीदी कायर कदापि नहीं थीं. फिर मुझे एक दिन दीदी का वह पत्र मिला जिस ने सारे राज खोल दिए और मुझे परेशानी व असमंजस में डाल दिया कि क्या दीदी की आत्महत्या को मैं यों ही व्यर्थ जाने दूं? मैं बालकनी में पड़ी कुरसी पर चुपचाप बैठा था. जाने क्यों मन उदास था, जबकि लता दीदी को गुजरे अब 1 माह से अधिक हो गया है. दीदी की याद आती है तो जैसे यादों की बरात मन के लंबे रास्ते पर निकल पड़ती है. जिस दिन यह खबर मिली कि ‘लता ने आत्महत्या कर ली,’ सहसा विश्वास ही नहीं हुआ कि यह बात सच भी हो सकती है. क्योंकि दीदी कायर कदापि नहीं थीं. शादी के बाद, उन के पहले 3-4 साल अच्छे बीते. शरद जीजाजी और दीदी दोनों भोपाल में कार्यरत थे. जीजाजी बैंक में सहायक प्रबंधक हैं. दीदी शादी के पहले से ही सूचना एवं प्रसार कार्यालय में स्टैनोग्राफर थीं. लता

Hindi Family Story Big Brother Part 1 to 3

  Hindi kahani big brother बड़े भैया-भाग 1: स्मिता अपने भाई से कौन सी बात कहने से डर रही थी जब एक दिन अचानक स्मिता ससुराल को छोड़ कर बड़े भैया के घर आ गई, तब भैया की अनुभवी आंखें सबकुछ समझ गईं. अश्विनी कुमार भटनागर बड़े भैया ने घूर कर देखा तो स्मिता सिकुड़ गई. कितनी कठिनाई से इतने दिनों तक रटा हुआ संवाद बोल पाई थी. अब बोल कर भी लग रहा था कि कुछ नहीं बोली थी. बड़े भैया से आंख मिला कर कोई बोले, ऐसा साहस घर में किसी का न था. ‘‘क्या बोला तू ने? जरा फिर से कहना,’’ बड़े भैया ने गंभीरता से कहा. ‘‘कह तो दिया एक बार,’’ स्मिता का स्वर लड़खड़ा गया. ‘‘कोई बात नहीं,’’ बड़े भैया ने संतुलित स्वर में कहा, ‘‘एक बार फिर से कह. अकसर दूसरी बार कहने से अर्थ बदल जाता है.’’ स्मिता ने नीचे देखते हुए कहा, ‘‘मुझे अनिमेष से शादी करनी है.’’ ‘‘यह अनिमेष वही है न, जो कुछ दिनों पहले यहां आया था?’’ बड़े भैया ने पूछा. ‘‘जी.’’ ‘‘और वह बंगाली है?’’ बड़े भैया ने एकएक शब्द पर जोर देते हुए पूछा. ‘‘जी,’’ स्मिता ने धीमे स्वर में उत्तर दिया. ‘‘और हम लोग, जिस में तू भी शामिल है, शुद्ध शाकाहारी हैं. वह बंगाली तो अवश्य ही

Maa Ki Shaadi मां की शादी- भाग 1: समीर अपनी बेटी को क्या बनाना चाहता था?

मां की शादी- भाग 1: समीर अपनी बेटी को क्या बनाना चाहता था? मां की शादी- भाग 1: समीर अपनी बेटी को क्या बनाना चाहता था? समीर की मृत्यु के बाद मीरा के जीवन का एकमात्र मकसद था समीरा को सुखद भविष्य देना. लेकिन मीरा नहीं जानती थी कि समीरा भी अपनी मां की खुशियों को नए पंख देना चाहती थी. संध्या समीर और मैं ने, परिवारों के विरोध के बावजूद प्रेमविवाह किया था. एकदूसरे को पा कर हम बेहद खुश थे. समीर बैंक मैनेजर थे. बेहद हंसमुख एवं मिलनसार स्वभाव के थे. मेरे हर काम में दिलचस्पी तो लेते ही थे, हर संभव मदद भी करते थे, यहां तक कि मेरे कालेज संबंधी कामों में भी पूरी मदद करते थे. कई बार तो उन के उपयोगी टिप्स से मेरे लेक्चर में नई जान आ जाती थी. शादी के 4 वर्षों बाद मैं ने प्यारी सी बिटिया को जन्म दिया. उस के नामकरण के लिए मैं ने समीरा नाम सुझाया. समीर और मीरा की समीरा. समीर प्रफुल्लित होते हुए बोले, ‘‘यार, तुम ने तो बहुत बढि़या नामकरण कर दिया. जैसे यह हम दोनों का रूप है उसी तरह इस के नाम में हम दोनों का नाम भी समाहित है.’’ समीरा को प्यार से हम सोमू पुकारते, उस के जन्म के बाद मैं ने दोनों परिवारों मे