Best Smartphone Under Rs 15000, List of 64MP Camera Smartphone सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Best Smartphone Under Rs 15000, List of 64MP Camera Smartphone

15000 हज़ार के अंदर खरीदें 48 मैगपिक्स कैमरा वाला स्मार्ट फ़ोन

15000 हज़ार के अंदर खरीदें 48 मैगपिक्स कैमरा वाला स्मार्ट फ़ोन
15000 हज़ार के अंदर 48 मैगपिक्स कैमरा वाला स्मार्ट फ़ोन



बदलते वक्त के साथ स्मार्टफोन का उपयोग भी पूरी तरह से बदल गया है। जहां पहले मोबाइल फोन केवल कॉलिंग के लिए उपयोग किए जाते हैं। वहीं अब मोबाइल फोन की जगह स्मार्टफोन ने ले ली है और इनका उपयोग केवल कॉलिंग के लिए नहीं बल्कि, वीडियो स्ट्रीमिंग, गेमिंग और खास तौर पर फोटोग्राफी के लिए किया जाता है। ऐसे में यूजर्स भी नया स्मार्टफोन खरीदते समय बजट के साथ ही उसमें बेहतरीन कैमरा क्वालिटी चाहते हैं। अगर आप भी स्मार्टफोन से फोटोग्राफी का शौक रखते हैं तो बता दें कि बाजार में आपको बजट रेंज में 64MP कैमरे वाले कई शानदार फोन मिल जाएंगे। हालांकि, उनमें से किसी एक सिलेक्ट करने में आप कंफ्यूज हो सकते हैं। लेकिन इसके लिए परेशान होने की जरूरत नहीं है, क्योंकि आज हम यहां 15,000 रुपये से कम कीमत में उपलब्ध होने वाले बेस्ट स्मार्टफोन की लिस्ट लेकर आए हैं जिनमें आपको 64MP का कैमरा मिलेगा। 





Realme 7 कीमत: 14,999 रुपये


यह फोटोग्राफी के लिए एक बेस्ट विकल्प हो सकता है। इस स्मार्टफोन में आपको क्वाड रियर कैमरा सेटअप मिलेगा। फोन में 64MP का Sony IMX682 प्राइमरी सेंसर दिया गया है। जबकि 8MP का वाइड एंगल लेंस, एक पोट्रेट लेंस और एक मैक्रो लेंस मौजूद है। साथ ही इसमें आपको 16MP का फ्रंट कैमरा मिलेगा। यह स्मार्टफोन MediaTek Helio G95 चिपेसट पर काम करता है। 





Tecno Camon 16 कीमत: 10,999 रुपये


Tecno Camon 16 को हाल ही में भारतीय बाजार में लॉन्च किया गया है। इस स्मार्टफोन की मुख्य खासियत इसमें दिया गया 64MP का प्राइमरी सेंसर है। यह स्मार्टफोन Flipkart Big Billion Days sale में 16 अक्टूबर से खरीददारी के लिए उपलब्ध होगा। यह MediaTek Helio G79 चिपसेट पर काम करता है और इसमें 4GB रैम के साथ 64GB इंटरनल स्टोरेज दी गई है। 





Realme 7i कीमत: 11,999 रुपये


Realme 7i में आपको शानदार फोटोग्राफी के लिए क्वाड रियर कैमरा सेटअप मिलेगा। इसमें 64MP का प्राइमरी सेंसर, 8MP का अल्ट्रा वाइड एंगल और 2MP + 2MP के अन्य सेंसर्स दिए गए हैं। यह फोन Snapdragon 662 पर काम करता है और इसमें 6.5 इंच का डिस्प्ले दिया गया है। 

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

एक दिन अचानक हिंदी कहानी, Hindi Kahani Ek Din Achanak

एक दिन अचानक दीदी के पत्र ने सारे राज खोल दिए थे. अब समझ में आया क्यों दीदी ने लिखा था कि जिंदगी में कभी किसी को अपनी कठपुतली मत बनाना और न ही कभी खुद किसी की कठपुतली बनना. Hindi Kahani Ek Din Achanak लता दीदी की आत्महत्या की खबर ने मुझे अंदर तक हिला दिया था क्योंकि दीदी कायर कदापि नहीं थीं. फिर मुझे एक दिन दीदी का वह पत्र मिला जिस ने सारे राज खोल दिए और मुझे परेशानी व असमंजस में डाल दिया कि क्या दीदी की आत्महत्या को मैं यों ही व्यर्थ जाने दूं? मैं बालकनी में पड़ी कुरसी पर चुपचाप बैठा था. जाने क्यों मन उदास था, जबकि लता दीदी को गुजरे अब 1 माह से अधिक हो गया है. दीदी की याद आती है तो जैसे यादों की बरात मन के लंबे रास्ते पर निकल पड़ती है. जिस दिन यह खबर मिली कि ‘लता ने आत्महत्या कर ली,’ सहसा विश्वास ही नहीं हुआ कि यह बात सच भी हो सकती है. क्योंकि दीदी कायर कदापि नहीं थीं. शादी के बाद, उन के पहले 3-4 साल अच्छे बीते. शरद जीजाजी और दीदी दोनों भोपाल में कार्यरत थे. जीजाजी बैंक में सहायक प्रबंधक हैं. दीदी शादी के पहले से ही सूचना एवं प्रसार कार्यालय में स्टैनोग्राफर थीं. लता

Hindi Family Story Big Brother Part 1 to 3

  Hindi kahani big brother बड़े भैया-भाग 1: स्मिता अपने भाई से कौन सी बात कहने से डर रही थी जब एक दिन अचानक स्मिता ससुराल को छोड़ कर बड़े भैया के घर आ गई, तब भैया की अनुभवी आंखें सबकुछ समझ गईं. अश्विनी कुमार भटनागर बड़े भैया ने घूर कर देखा तो स्मिता सिकुड़ गई. कितनी कठिनाई से इतने दिनों तक रटा हुआ संवाद बोल पाई थी. अब बोल कर भी लग रहा था कि कुछ नहीं बोली थी. बड़े भैया से आंख मिला कर कोई बोले, ऐसा साहस घर में किसी का न था. ‘‘क्या बोला तू ने? जरा फिर से कहना,’’ बड़े भैया ने गंभीरता से कहा. ‘‘कह तो दिया एक बार,’’ स्मिता का स्वर लड़खड़ा गया. ‘‘कोई बात नहीं,’’ बड़े भैया ने संतुलित स्वर में कहा, ‘‘एक बार फिर से कह. अकसर दूसरी बार कहने से अर्थ बदल जाता है.’’ स्मिता ने नीचे देखते हुए कहा, ‘‘मुझे अनिमेष से शादी करनी है.’’ ‘‘यह अनिमेष वही है न, जो कुछ दिनों पहले यहां आया था?’’ बड़े भैया ने पूछा. ‘‘जी.’’ ‘‘और वह बंगाली है?’’ बड़े भैया ने एकएक शब्द पर जोर देते हुए पूछा. ‘‘जी,’’ स्मिता ने धीमे स्वर में उत्तर दिया. ‘‘और हम लोग, जिस में तू भी शामिल है, शुद्ध शाकाहारी हैं. वह बंगाली तो अवश्य ही

Maa Ki Shaadi मां की शादी- भाग 1: समीर अपनी बेटी को क्या बनाना चाहता था?

मां की शादी- भाग 1: समीर अपनी बेटी को क्या बनाना चाहता था? मां की शादी- भाग 1: समीर अपनी बेटी को क्या बनाना चाहता था? समीर की मृत्यु के बाद मीरा के जीवन का एकमात्र मकसद था समीरा को सुखद भविष्य देना. लेकिन मीरा नहीं जानती थी कि समीरा भी अपनी मां की खुशियों को नए पंख देना चाहती थी. संध्या समीर और मैं ने, परिवारों के विरोध के बावजूद प्रेमविवाह किया था. एकदूसरे को पा कर हम बेहद खुश थे. समीर बैंक मैनेजर थे. बेहद हंसमुख एवं मिलनसार स्वभाव के थे. मेरे हर काम में दिलचस्पी तो लेते ही थे, हर संभव मदद भी करते थे, यहां तक कि मेरे कालेज संबंधी कामों में भी पूरी मदद करते थे. कई बार तो उन के उपयोगी टिप्स से मेरे लेक्चर में नई जान आ जाती थी. शादी के 4 वर्षों बाद मैं ने प्यारी सी बिटिया को जन्म दिया. उस के नामकरण के लिए मैं ने समीरा नाम सुझाया. समीर और मीरा की समीरा. समीर प्रफुल्लित होते हुए बोले, ‘‘यार, तुम ने तो बहुत बढि़या नामकरण कर दिया. जैसे यह हम दोनों का रूप है उसी तरह इस के नाम में हम दोनों का नाम भी समाहित है.’’ समीरा को प्यार से हम सोमू पुकारते, उस के जन्म के बाद मैं ने दोनों परिवारों मे