शारदीय नवरात्रि Festival 2020 अगर इस नवरात्रि Shardiya Navratri में आप कर ले यह 7 काम, आपके सारे संकट हो जाएंगे दूर

 

अगर इस नवरात्रि में आप कर ले यह 7 काम, आपके सारे संकट हो जाएंगे दूर
navratri puja vidhi 2020


 शारदीय नवरात्रि Festival 2020 अगर इस नवरात्रि Shardiya Navratri में आप कर ले यह 7 काम, आपके सारे संकट हो जाएंगे दूर navratri festival 2020 navratri kab hai shardiya navratri 2020 Navratri 2020 navratri puja vidhi नवरात्रि 2020 

 

नवरात्रि का पावन त्योहार 17 अक्तूबर से शुरू हो जाएगा ( शारदीय नवरात्रि 2020 )। नौ दिनों तक चलने वाले इस पर्व में मां दुर्गा के नौ रूपों की आराधना होती है। शास्त्रों में मां दुर्गा को शक्ति की देवी बताया गया है। इसलिए इसे शक्ति की उपासना का पर्व की कहा जाता है। नवरात्र में नौ दिनों तक व्रत किये जाते हैं। मान्यता है कि नवरात्र के व्रत रखने वालों को मां दुर्गा का आशीर्वाद मिलता है और उनके सभी संकट दूर हो जाते हैं। माता रानी उनकी सारी मनोकामनाएं पूर्ण करती हैं। नवरात्र के समय कुछ कार्यों को करने से माता रानी प्रसन्न होकर सुख-समृद्धि का वरदान देती हैं। ये कार्य इस प्रकार हैं- 


नवरात्रि सम्पूर्ण पूजन विधि


नवरात्रि सम्पूर्ण पूजन विधि

इस बार नवरात्रि में पूरे 58 साल बाद शनि (Shani) स्वराशि मकर और गुरु (Guru) स्वराशि धनु में रहेंगे. साथ ही साथ इस बार घटस्थापना पर भी विशेष संयोग बन रहा है. ये महासंयोग (Mahasanyog) कई लोगों को झोली खुशियों से भर सकते हैं.


Shardiya Navratri Festival  2020
नवरात्रि 2020, 





नवरात्रि के पहले दिन मां शैलपुत्री की उपासना की जाती है और इसी दिन घटस्थापना भी करते हैं. जौ बोने के साथ-साथ अखंड ज्योति भी जलाई जाती है. पूरे विधि-विधान से नवरात्रि के व्रत रखने वालों को मां दुर्गा का आशीर्वाद से लाभ प्राप्त होता है.



navratri puja vidhi
navratri puja vidhi


घटस्थापना का शुभ मुहूर्त (Ghat sthapna shubh muhurt) शनिवार, 17 अक्टूबर 2020 को सुबह 6 बजकर 10 मिनट पर है. यदि आप किसी कारण वश इस समय घटस्थापना नहीं कर पाते हैं तो इसी तिथि को सुबह 11 बजकर 02 मिनट से 11 बजकर 49 मिनट के बीच इसे कर सकते हैं.


navratri kab hai, navratri festival 2020
navratri festival 2020





वास्तु के हिसाब से घर का पूजा स्थल हमेशा उत्तर-पूर्व दिशा में ही होना चाहिए. इसलिए घर की उत्तर-पूर्व दिशा में ही घटस्थापना करें. चौकी पर लाल रंग का वस्त्र बिछाएं और कुमकुम से एक स्वास्तिक जरूर बनाएं. इसके बाद मां दुर्गा की प्रतिमा को स्थापित करें. अखंड ज्योति जगाएं और घटस्थापना कर लें.


navratri kab hai
Add  navratri kab hai, 


नवरात्रि में इस बार कई और भी खास संयोग बन रहे हैं. राजयोग, दिव्य पुष्कर योग, अमृत योग, सर्वार्थ सिद्धि योग और सिद्धि योग शारदीय नवरात्रि को खास बना रहे हैं. इस दौरान मां दुर्गा को लाल वस्त्र, फल और फूल अर्पित करने से आपको काफी लाभ मिलेगा. इस बीच दुर्गा सप्तशती का पाठ करने से आपकी मनोकामनाएं भी पूरी हो सकती हैं.






टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां