Hindi 'Haqiqat' Shayari Collection हक़ीक़त पर कहे गए शेर

 

Hindi 'Haqeeqat' Shayari Collection


Hindi 'Haqiqat' Shayari Collection  हक़ीक़त पर कहे गए शेर 



हक़ीक़त सामने थी और हक़ीक़त से मैं ग़ाफ़िल था
मिरा दिल तेरा जल्वा था तिरा जल्वा मिरा दिल था
- शौकत थानवी


क्या हक़ीक़त है क्या कहानी है
मुख़्तसर अपनी ज़िंदगानी है
- नसरीन नक़्क़ाश

तुम न मानो मगर हक़ीक़त है
इश्क़ इंसान की ज़रूरत है
- क़ाबिल अजमेरी

हकीकत शायरी इन हिंदी


कुछ हक़ीक़त है कुछ कहानी है
सिर्फ़ कहने को हक़-बयानी है
- दिनेश कुमार

हक़ीक़त क्या बताऊं ज़िंदगी की
उसे लत पड़ गई है आदमी की
- सय्यद सरोश आसिफ़


हक़ीक़त में कोई कहानी मिला दो
बहुत आग है थोड़ा पानी मिला दो
- नवीन जोशी 

2 लाइन हक़ीक़त शायरी 

बयां अपनी हक़ीक़त कर रहा हूं
वो कहते हैं शिकायत कर रहा हूं
- अब्बास ताबिश


वो हक़ीक़त में एक लम्हा था
जिस का दौरान ये ज़माना था
- सग़ीर मलाल

हक़ीक़त ज़ीस्त की समझा नहीं है
वो अपने दश्त से गुज़रा नहीं है
- सीमा शर्मा मेरठी



हकीकत क्विट्स इन हिंदी

तुम न मानो मगर हक़ीक़त है
इश्क़ इंसान की ज़रूरत है
- क़ाबिल अजमेरी

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां