Khushbu Shayri Collection | खुशबू पर शायरी 2 Line Khushboo Quotes
 2 Line Khushboo Quotes



आप आए तो बहारों ने लुटाई ख़ुश्बू
फूल तो फूल थे काँटों से भी आई ख़ुश्बू
- अज्ञात


ख़ुश्बू जैसी रात ने मेरा
अपने जैसा हाल किया था
- आसिमा ताहिर

ख़ुश्बू को फैलने का बहुत शौक़ है मगर
मुमकिन नहीं हवाओं से रिश्ता किए बग़ैर
- बिस्मिल सईदी


रंग बातें करें और बातों से ख़ुश्बू आए
दर्द फूलों की तरह महके अगर तू आए
- ज़िया जालंधरी

रंग ख़ुश्बू और मौसम का बहाना हो गया
अपनी ही तस्वीर में चेहरा पुराना हो गया
- खालिद गनी


लहजा कि जैसे सुब्ह की ख़ुश्बू अज़ान दे
जी चाहता है मैं तिरी आवाज़ चूम लूँ
- बशीर बद्र

एक ख़ुश्बू सी उभरती है नफ़स से मेरे
हो न हो आज कोई आन बसा है मुझ में
- मसूदा हयात


मिरे पहलू में वो आया भी तो ख़ुश्बू की तरह
मैं उसे जितना समेटूँ वो बिखरता जाए
- अज्ञात

रूह काग़ज़ कलाम ख़ुश्बू है
क्या नुमायाँ पयाम ख़ुश्बू है
- हस्सान अहमद आवान


उठी कुछ ऐसे बदन की ख़ुश्बू
सिमट गई पैरहन की ख़ुश्बू
- मोहम्मद अल्वी








यादों की खुशबू शायरी खुशबू पर शायरी your quotes तेरे बदन की खुशबू शायरी (khushboo quotes in hindi)