ट्राइटन Electric SUV Car Showcased in India 1200 KM Range Specifications 8-सीटर अमेरिकी SUV आ रही है भारत! सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

ट्राइटन Electric SUV Car Showcased in India 1200 KM Range Specifications 8-सीटर अमेरिकी SUV आ रही है भारत!

 सिंगल चार्ज में 1,200 किलोमीटर चलने वाली 8-सीटर अमेरिकी SUV आ रही है भारत! Triton EV Model H 8 Seater Electric SUV Car Showcased in India 1200 KM Range Specifications Launch Expected Soon

 

ट्राइटन Electric SUV Car Showcased in India 1200 KM Range Specifications 8-सीटर अमेरिकी SUV आ रही है भारत!
इलेक्ट्रिक कार कीमत,
 

 

Triton इलेक्ट्रिक कार एसयूवी अगले कुछ महीनों में भारत में 30 करोड़ डॉलर (लगभग 226 करोड़ रुपये) का निवेश करने की योजना बना रही है। कंपनी ने यह भी बताया कि उसे भारत से पहले ही 2.4 बिलियन डॉलर (लगभग 18,000 करोड़ रुपये) की खरीद के ऑर्डर मिल चुके हैं।
ट्राइटन, model h range,electric car,latest electric cars in india,upcoming electric cars,upcoming electric cars in india





यूएस-आधारित इलेक्ट्रिक मोबिलिटी कंपनी Triton EV ने भारतीय इलेक्ट्रिक मार्केट में नए खिलाड़ी के रूप में कदम रख सकते हैं। मंगलवार को, कंपनी ने हैदराबाद में अपनी इलेक्ट्रिक एसयूवी (Electric SUV) Triton Model H को शोकेस किया। ट्राइटन ईवी की भारत में यह पहली एसयूवी न केवल देखने में विशाल और दमदार है, बल्कि इसकी रेंज भी जबरदस्त है। कंपनी का दावा है कि Model H सिंगल चार्ज में 1,200 किलोमीटर की रेंज देने में सक्षम है। आइए इस कार के बारे में अधिक जानते हैं।
 
 
इलेक्ट्रिक कार का भविष्य

लुक में Model H आपको अमेरिकी एसयूवी होने का अहसास कराएगी। इसमें विशाल फ्रंट ग्रिल देखने को मिलती है और यह साइज़ में भी विशाल है। इसकी लंबाई 5,690 mm, ऊंचाई 2,057 mm और चौड़ाई 1,880 mm है। इसका व्हीलबेस भी लगभग 3,302 mm है। निश्चित तौर पर यह रोड पर किसी मिनी ट्रक से कम नहीं लगेगी। यह आठ सीटर (8-Seater electric SUV) है और उसके बाद भी इसमें 5,663 लीटर का स्टोरेज स्पेस मिलता है।

Model H में 200kWh का बैटरी पैक मिलता है और जैसा कि हमने बताया, कंपनी का दावा है कि यह बैटरी पैक सिंगल चार्ज में लगभग 1,200 km की रेंज निकालने में सक्षम है। हाइपरचार्जर के विकल्प के साथ यह बैटरी पैक मात्र दो घंटे में फुल चार्ज हो सकता है। कंपनी के मुताबिक, यह इलेक्ट्रिक कार 0-60 मील प्रति घंटा (लगभग 0-97 kmph) की रफ्तार मात्र 2.9 सेकंड में पकड़ सकती है।

जानकारी के लिए बता दें कि Triton अगले कुछ महीनों में भारत में 30 करोड़ डॉलर (लगभग 226 करोड़ रुपये) का निवेश करने की योजना बना रही है। कंपनी ने यह भी बताया कि उसे भारत से पहले ही 2.4 बिलियन डॉलर (लगभग 18,000 करोड़ रुपये) की खरीद के ऑर्डर मिल चुके हैं। कंपनी जल्द तेलंगाना के ज़ाहिराबाद इलाके में अपनी मैन्युफैक्चरिंग यूनिट स्थापित करने की योजना बना रही है।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

एक दिन अचानक हिंदी कहानी, Hindi Kahani Ek Din Achanak

एक दिन अचानक दीदी के पत्र ने सारे राज खोल दिए थे. अब समझ में आया क्यों दीदी ने लिखा था कि जिंदगी में कभी किसी को अपनी कठपुतली मत बनाना और न ही कभी खुद किसी की कठपुतली बनना. Hindi Kahani Ek Din Achanak लता दीदी की आत्महत्या की खबर ने मुझे अंदर तक हिला दिया था क्योंकि दीदी कायर कदापि नहीं थीं. फिर मुझे एक दिन दीदी का वह पत्र मिला जिस ने सारे राज खोल दिए और मुझे परेशानी व असमंजस में डाल दिया कि क्या दीदी की आत्महत्या को मैं यों ही व्यर्थ जाने दूं? मैं बालकनी में पड़ी कुरसी पर चुपचाप बैठा था. जाने क्यों मन उदास था, जबकि लता दीदी को गुजरे अब 1 माह से अधिक हो गया है. दीदी की याद आती है तो जैसे यादों की बरात मन के लंबे रास्ते पर निकल पड़ती है. जिस दिन यह खबर मिली कि ‘लता ने आत्महत्या कर ली,’ सहसा विश्वास ही नहीं हुआ कि यह बात सच भी हो सकती है. क्योंकि दीदी कायर कदापि नहीं थीं. शादी के बाद, उन के पहले 3-4 साल अच्छे बीते. शरद जीजाजी और दीदी दोनों भोपाल में कार्यरत थे. जीजाजी बैंक में सहायक प्रबंधक हैं. दीदी शादी के पहले से ही सूचना एवं प्रसार कार्यालय में स्टैनोग्राफर थीं. लता

Hindi Family Story Big Brother Part 1 to 3

  Hindi kahani big brother बड़े भैया-भाग 1: स्मिता अपने भाई से कौन सी बात कहने से डर रही थी जब एक दिन अचानक स्मिता ससुराल को छोड़ कर बड़े भैया के घर आ गई, तब भैया की अनुभवी आंखें सबकुछ समझ गईं. अश्विनी कुमार भटनागर बड़े भैया ने घूर कर देखा तो स्मिता सिकुड़ गई. कितनी कठिनाई से इतने दिनों तक रटा हुआ संवाद बोल पाई थी. अब बोल कर भी लग रहा था कि कुछ नहीं बोली थी. बड़े भैया से आंख मिला कर कोई बोले, ऐसा साहस घर में किसी का न था. ‘‘क्या बोला तू ने? जरा फिर से कहना,’’ बड़े भैया ने गंभीरता से कहा. ‘‘कह तो दिया एक बार,’’ स्मिता का स्वर लड़खड़ा गया. ‘‘कोई बात नहीं,’’ बड़े भैया ने संतुलित स्वर में कहा, ‘‘एक बार फिर से कह. अकसर दूसरी बार कहने से अर्थ बदल जाता है.’’ स्मिता ने नीचे देखते हुए कहा, ‘‘मुझे अनिमेष से शादी करनी है.’’ ‘‘यह अनिमेष वही है न, जो कुछ दिनों पहले यहां आया था?’’ बड़े भैया ने पूछा. ‘‘जी.’’ ‘‘और वह बंगाली है?’’ बड़े भैया ने एकएक शब्द पर जोर देते हुए पूछा. ‘‘जी,’’ स्मिता ने धीमे स्वर में उत्तर दिया. ‘‘और हम लोग, जिस में तू भी शामिल है, शुद्ध शाकाहारी हैं. वह बंगाली तो अवश्य ही

Maa Ki Shaadi मां की शादी- भाग 1: समीर अपनी बेटी को क्या बनाना चाहता था?

मां की शादी- भाग 1: समीर अपनी बेटी को क्या बनाना चाहता था? मां की शादी- भाग 1: समीर अपनी बेटी को क्या बनाना चाहता था? समीर की मृत्यु के बाद मीरा के जीवन का एकमात्र मकसद था समीरा को सुखद भविष्य देना. लेकिन मीरा नहीं जानती थी कि समीरा भी अपनी मां की खुशियों को नए पंख देना चाहती थी. संध्या समीर और मैं ने, परिवारों के विरोध के बावजूद प्रेमविवाह किया था. एकदूसरे को पा कर हम बेहद खुश थे. समीर बैंक मैनेजर थे. बेहद हंसमुख एवं मिलनसार स्वभाव के थे. मेरे हर काम में दिलचस्पी तो लेते ही थे, हर संभव मदद भी करते थे, यहां तक कि मेरे कालेज संबंधी कामों में भी पूरी मदद करते थे. कई बार तो उन के उपयोगी टिप्स से मेरे लेक्चर में नई जान आ जाती थी. शादी के 4 वर्षों बाद मैं ने प्यारी सी बिटिया को जन्म दिया. उस के नामकरण के लिए मैं ने समीरा नाम सुझाया. समीर और मीरा की समीरा. समीर प्रफुल्लित होते हुए बोले, ‘‘यार, तुम ने तो बहुत बढि़या नामकरण कर दिया. जैसे यह हम दोनों का रूप है उसी तरह इस के नाम में हम दोनों का नाम भी समाहित है.’’ समीरा को प्यार से हम सोमू पुकारते, उस के जन्म के बाद मैं ने दोनों परिवारों मे