Beauty Tips on Hindi Top 12 Beauty Tips in Hindi Beauty Tips ब्यूटी टिप्स इन हिंदी टॉप 12 ब्यूटी टिप्स इन हिंदी ब्यूटी टिप्स Hindishayarih सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Beauty Tips on Hindi Top 12 Beauty Tips in Hindi Beauty Tips ब्यूटी टिप्स इन हिंदी टॉप 12 ब्यूटी टिप्स इन हिंदी ब्यूटी टिप्स Hindishayarih


Beauty Tips on Hindi वे दिन लंबे समय से चले गए जब केवल महिलाएं ही दोष मुक्त, चमकती और स्वस्थ त्वचा की ख्वाहिश रखती थीं। आज, स्वच्छ, कोमल और सुंदर त्वचा हर किसी के लिए प्राथमिकता है, लेकिन भारी और व्यस्त कार्यक्रम के साथ हमारे दैनिक त्वचा देखभाल दिनचर्या को पूरा करना मुश्किल हो गया है। उसके ऊपर, अनुचित आहार, अपर्याप्त नींद, बढ़ते प्रदूषण और हानिकारक सूरज की किरणों ने अच्छी तरह से पोषित और हाइड्रेटेड त्वचा का होना लगभग असंभव बना दिया है। तो, उनके काम-जीवन के संतुलन और आत्म-प्रेम के लिए सीमित समय के साथ, महिलाएं अपनी त्वचा को मुंहासों, काले घेरे और सुस्ती से बचाने के लिए अपनी त्वचा की देखभाल कैसे कर सकती हैं? यदि आप उन महिलाओं में से हैं, जो आपके घर पर सौंदर्य सत्रों से परेशान हैं, तो आपकी त्वचा को स्वस्थ और चमकदार बनाए रखने के लिए यहां कुछ टिप्स और ट्रिक्स दिए गए हैं।




in Hindi Beauty Tips

 1. अपनी त्वचा के प्रकार के अनुसार उत्पादों का चयन करें: एक उचित त्वचा देखभाल व्यवस्था के लिए पहला और सबसे महत्वपूर्ण कानून ऐसे उत्पादों का चयन करना है जो आपकी त्वचा के प्रकार के लिए सबसे उपयुक्त हों। उसके बाद, यह सुनिश्चित करने के लिए कि आपकी त्वचा साफ और अच्छी तरह से पोषित है, धार्मिक रूप से एक साधारण दिन और रात त्वचा देखभाल दिनचर्या का पालन करें।


beauty tips with video

2. रासायनिक प्रेरित उत्पादों से बचें, जैविक बनें: हमेशा नीम, शहद और एलोवेरा जैसे प्राकृतिक और जैविक अवयवों से बने उत्पादों का चयन करें। प्राकृतिक तत्व आपकी त्वचा पर कोमल होंगे। उन उत्पादों से बचें जिनमें पैराबेंस और सल्फेट होते हैं।


beauty tips with hindi
3. सही फेस वाश/क्लीनर का प्रयोग करें: एक गलत फेस वाश/क्लीनर आपकी त्वचा को शुष्क, तंग और यहां तक ​​कि खुजली भी महसूस करा सकता है। अपनी त्वचा के प्रकार के अनुसार फेस वाश / क्लींजर चुनें। उदाहरण के लिए, तैलीय और मुंहासे वाली त्वचा के लिए, सैलिसिलिक एसिड वाला क्लीन्ज़र चमत्कार करेगा।



beauty tips of hindi

4. एक प्राकृतिक टोनर: मॉइस्चराइजर लगाने से पहले गुलाब जल को टोनर के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है क्योंकि यह मॉइस्चराइजर को अवशोषित करने में मदद करता है और आपकी त्वचा को हाइड्रेटेड, खुली और चिकनी महसूस कराता है।


Beauty Tips on Hindi

5. सही तकनीक का इस्तेमाल करें: अपने चेहरे पर छोटे-छोटे सर्कुलर मोशन में हाइड्रेटिंग मॉइस्चराइजर लगाएं। बहुत अधिक दबाव न डालें, लेकिन प्रक्रिया को पूरा करने के लिए हाथों की कोमल गतियों का उपयोग करें।


beauty tips for the skin
6. नियमित रूप से एक्सफोलिएट करें: अपनी त्वचा को हफ्ते में एक या अधिकतम दो बार सौम्य स्क्रब से एक्सफोलिएट करें। यह आपको मृत त्वचा कोशिकाओं से छुटकारा पाने और छिद्रों को खोलने में मदद करेगा। अच्छे परिणामों के लिए अपने चेहरे को स्क्रब करने के बाद ठंडे पानी से धो लें।



the beauty tips for face
7. चेहरे की मालिश और व्यायाम: अपने लिए कुछ मिनट निकालें, चेहरे की अच्छी मालिश करें और नियमित रूप से कुछ चेहरे के व्यायाम करें। इसमें केवल कुछ मिनट लगते हैं और आपको तरोताजा और गुलाबी महसूस करने में मदद मिलेगी।



8. डार्क सर्कल्स को कहें अलविदा: आंखों के आसपास की त्वचा बेहद नाजुक होती है और इसके लिए अतिरिक्त देखभाल की जरूरत होती है। यहां डार्क सर्कल्स और पफपन से बचने के लिए हल्के हाथों से कोई अच्छी आई क्रीम लगाएं और कम से कम एक मिनट तक मसाज करें।



9. मेकअप हटाना न भूलें: हमेशा अपना मेकअप हटा दें और सोने से पहले अपने चेहरे को अच्छी तरह से साफ कर लें। यदि आप मेकअप को छोड़ देते हैं, तो यह आपके छिद्रों को बंद कर देगा और त्वचा में जलन और सुस्ती पैदा करेगा।



10. विटामिन सी जरूरी है: एक उत्कृष्ट विटामिन सी सीरम में निवेश करें क्योंकि आपकी त्वचा को भी विटामिन की अच्छी खुराक की आवश्यकता होती है।



11. महीने में कम से कम एक बार गहरी सफाई: अपने आप को एक उपचार दें और जब भी संभव हो उचित आत्म-देखभाल पर कुछ समय व्यतीत करें। एक अच्छा फेशियल/डीप क्लींजिंग अभ्यास आपकी त्वचा को पूरी तरह से निखार सकता है।



12. अलग-अलग मौसम, अलग-अलग उत्पाद: बदलते मौसम के साथ, आपकी त्वचा को अलग-अलग स्किनकेयर उत्पादों की आवश्यकता होती है, इसलिए उसी के अनुसार स्विच करें। सर्दियों के दौरान, त्वचा को आमतौर पर हाइड्रेटिंग उत्पादों की आवश्यकता होती है, जबकि गर्मियों में, गैर-चिपचिपा उत्पादों पर स्विच करें।



13. अपने होठों को न भूलें: आपके होठों को भी कुछ ध्यान देने की जरूरत है, अन्यथा वे उस सुस्वादु रंग को खो देंगे। हाइड्रेट करने के लिए मॉइस्चराइजिंग लिप बाम लगाएं। और अगर आपको होठ चबाने की आदत है तो तुरंत बंद कर दें।




14. ब्यूटी स्लीप लेना न भूलें: अपनी हेल्दी स्किनकेयर रूटीन को पूरा करने के लिए 8 घंटे की अच्छी नींद लेना बेहद जरूरी है। हर रात एक शांतिपूर्ण नींद लेने से काले घेरे और सूजन को रोका जा सकता है।


15. अशुद्ध हाथों से अपने चेहरे को न छुएं: अपने चेहरे, आंख या नाक को अशुद्ध हाथों से छूने से बचें क्योंकि इससे बैक्टीरिया फैल सकते हैं और ब्रेकआउट हो सकते हैं। किसी भी गंदगी को धोने के लिए हमेशा वाइप या पानी का इस्तेमाल करें। इसके अलावा, अपने चेहरे को छूने से पहले अपने हाथों को अच्छी तरह धो लें।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

एक दिन अचानक हिंदी कहानी, Hindi Kahani Ek Din Achanak

एक दिन अचानक दीदी के पत्र ने सारे राज खोल दिए थे. अब समझ में आया क्यों दीदी ने लिखा था कि जिंदगी में कभी किसी को अपनी कठपुतली मत बनाना और न ही कभी खुद किसी की कठपुतली बनना. Hindi Kahani Ek Din Achanak लता दीदी की आत्महत्या की खबर ने मुझे अंदर तक हिला दिया था क्योंकि दीदी कायर कदापि नहीं थीं. फिर मुझे एक दिन दीदी का वह पत्र मिला जिस ने सारे राज खोल दिए और मुझे परेशानी व असमंजस में डाल दिया कि क्या दीदी की आत्महत्या को मैं यों ही व्यर्थ जाने दूं? मैं बालकनी में पड़ी कुरसी पर चुपचाप बैठा था. जाने क्यों मन उदास था, जबकि लता दीदी को गुजरे अब 1 माह से अधिक हो गया है. दीदी की याद आती है तो जैसे यादों की बरात मन के लंबे रास्ते पर निकल पड़ती है. जिस दिन यह खबर मिली कि ‘लता ने आत्महत्या कर ली,’ सहसा विश्वास ही नहीं हुआ कि यह बात सच भी हो सकती है. क्योंकि दीदी कायर कदापि नहीं थीं. शादी के बाद, उन के पहले 3-4 साल अच्छे बीते. शरद जीजाजी और दीदी दोनों भोपाल में कार्यरत थे. जीजाजी बैंक में सहायक प्रबंधक हैं. दीदी शादी के पहले से ही सूचना एवं प्रसार कार्यालय में स्टैनोग्राफर थीं. लता

Hindi Family Story Big Brother Part 1 to 3

  Hindi kahani big brother बड़े भैया-भाग 1: स्मिता अपने भाई से कौन सी बात कहने से डर रही थी जब एक दिन अचानक स्मिता ससुराल को छोड़ कर बड़े भैया के घर आ गई, तब भैया की अनुभवी आंखें सबकुछ समझ गईं. अश्विनी कुमार भटनागर बड़े भैया ने घूर कर देखा तो स्मिता सिकुड़ गई. कितनी कठिनाई से इतने दिनों तक रटा हुआ संवाद बोल पाई थी. अब बोल कर भी लग रहा था कि कुछ नहीं बोली थी. बड़े भैया से आंख मिला कर कोई बोले, ऐसा साहस घर में किसी का न था. ‘‘क्या बोला तू ने? जरा फिर से कहना,’’ बड़े भैया ने गंभीरता से कहा. ‘‘कह तो दिया एक बार,’’ स्मिता का स्वर लड़खड़ा गया. ‘‘कोई बात नहीं,’’ बड़े भैया ने संतुलित स्वर में कहा, ‘‘एक बार फिर से कह. अकसर दूसरी बार कहने से अर्थ बदल जाता है.’’ स्मिता ने नीचे देखते हुए कहा, ‘‘मुझे अनिमेष से शादी करनी है.’’ ‘‘यह अनिमेष वही है न, जो कुछ दिनों पहले यहां आया था?’’ बड़े भैया ने पूछा. ‘‘जी.’’ ‘‘और वह बंगाली है?’’ बड़े भैया ने एकएक शब्द पर जोर देते हुए पूछा. ‘‘जी,’’ स्मिता ने धीमे स्वर में उत्तर दिया. ‘‘और हम लोग, जिस में तू भी शामिल है, शुद्ध शाकाहारी हैं. वह बंगाली तो अवश्य ही

Maa Ki Shaadi मां की शादी- भाग 1: समीर अपनी बेटी को क्या बनाना चाहता था?

मां की शादी- भाग 1: समीर अपनी बेटी को क्या बनाना चाहता था? मां की शादी- भाग 1: समीर अपनी बेटी को क्या बनाना चाहता था? समीर की मृत्यु के बाद मीरा के जीवन का एकमात्र मकसद था समीरा को सुखद भविष्य देना. लेकिन मीरा नहीं जानती थी कि समीरा भी अपनी मां की खुशियों को नए पंख देना चाहती थी. संध्या समीर और मैं ने, परिवारों के विरोध के बावजूद प्रेमविवाह किया था. एकदूसरे को पा कर हम बेहद खुश थे. समीर बैंक मैनेजर थे. बेहद हंसमुख एवं मिलनसार स्वभाव के थे. मेरे हर काम में दिलचस्पी तो लेते ही थे, हर संभव मदद भी करते थे, यहां तक कि मेरे कालेज संबंधी कामों में भी पूरी मदद करते थे. कई बार तो उन के उपयोगी टिप्स से मेरे लेक्चर में नई जान आ जाती थी. शादी के 4 वर्षों बाद मैं ने प्यारी सी बिटिया को जन्म दिया. उस के नामकरण के लिए मैं ने समीरा नाम सुझाया. समीर और मीरा की समीरा. समीर प्रफुल्लित होते हुए बोले, ‘‘यार, तुम ने तो बहुत बढि़या नामकरण कर दिया. जैसे यह हम दोनों का रूप है उसी तरह इस के नाम में हम दोनों का नाम भी समाहित है.’’ समीरा को प्यार से हम सोमू पुकारते, उस के जन्म के बाद मैं ने दोनों परिवारों मे