Tork Kratos electric bike to be launched at the end of this month, will give competition to Revolt Tork Kratos इलेक्ट्रिक बाइक सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Tork Kratos electric bike to be launched at the end of this month, will give competition to Revolt Tork Kratos इलेक्ट्रिक बाइक

 
Tork Kratos electric bike to be launched at the end of this month, will give competition to Revolt इस महीने के अंत में लॉन्च होगी Tork Kratos इलेक्ट्रिक बाइक, देगी Revolt RV400 को टक्कर! RV400! Tork, जिसमें Bharat Forge की मुख्य हिस्सेदारी है, जनवरी के अंत में Kratos इलेक्ट्रिक मोटरसाइकल लॉन्च करने वाली है।



Tork Kratos electric bike to be launched at the end of this month, will give competition to Revolt इस महीने के अंत में लॉन्च होगी Tork Kratos इलेक्ट्रिक बाइक, देगी Revolt RV400 को टक्कर! RV400! Tork,
Tork Kratos इलेक्ट्रिक बाइक



Tork T6X इलेक्ट्रिक मोटरसाइकल (electric motorcycle) को लंबे समय से विकसित किया जा रहा है और हाल ही में इस इलेक्ट्रिक बाइक (electric bike) को सड़कों पर दौड़ते देखा गया था। इससे अंदाज़ा लगाया जा रहा था कि यह इलेक्ट्रिक टू-व्हीलर (electric two-wheeler) भारत में जल्द लॉन्च होने वाला है। अब, Tork ने यह पुष्टि कर दी है कि Tork की नई इलेक्ट्रिक बाइक जनवरी के अंत में लॉन्च होने के लिए बिल्कुल तैयार है। कंपनी ने यह भी घोषणा की है कि नई मेड इन इंडिया इलेक्ट्रिक मोटरसाइकल (Made in India electric motorcycle) नए Kratos नाम से आएगी और T6X कॉन्सेप्ट की तुलना में इसमें कई बदलाव भी होंगे।

Tork, जिसमें Bharat Forge की मुख्य हिस्सेदारी है, जनवरी के अंत में Kratos इलेक्ट्रिक मोटरसाइकल लॉन्च करने वाली है। कंपनी ने यह जानकारी भी दी है कि लॉन्च के कुछ महीनों के भीतर इस इलेक्ट्रिक बाइक की डिलीवरी शुरू कर दी जाएगी। टोर्क मोटर्स इस बाइक पर कई वर्षों से काम कर रही थी, और इस दौरान इसे कई बार सड़कों पर टेस्ट होते देखा जा चुका है।



हालांकि, टॉर्क का कहना है कि शुरुआती प्रोटोटाइप की तुलना में बाइक में कई बदलाव किए गए हैं। यह बाइक कंपनी द्वारा विकसित LIION बैटरी पैक के साथ आएगी, जो ज्यादा पावर और ज्यादा रेंज के लिए तैयार किया गया है। इसके अलावा, Kratos इलेक्ट्रिक मोटरसाइकल फास्ट चार्जिंग, डेटा सर्विस और 4G टेलीमेट्री जैसे फीचर्स से भी लैस होगी। 

Tork का कहना है कि "वर्षों की रिचर्स और डेवल्पमेंट के बाद हम भारत की पहली इलेक्ट्रिक मोटरसाइकिल क्रेटॉस को पेश करने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं। केवल इसका नाम नहीं बदला गया है, बल्कि यह T6X की तुलना में बिल्कुल नई मोटरसाइकिल है।"

टेक्नोलॉजी की जानकारी देते हुए, कंपनी ने कहा है कि इस इलेक्ट्रिक बाइक में सिग्नेचर TIROS (टॉर्क इंट्यूएटिव रिस्पांस ऑपरेटिंग सिस्टम) शामिल है, जो शहरी यात्रियों को बेहतरीन राइडिंग एक्सपीरियंस देने के लिए विकसित किया गया है। इसके अलावा, Tork Kratos में पावर मैनेजमेंट, टेक्निकल एनालिसिस, रियल टाइम पावर कंजप्शन, रेंज फॉरकास्ट आदि एडवांस फीचर भी शामिल हैं।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

एक दिन अचानक हिंदी कहानी, Hindi Kahani Ek Din Achanak

एक दिन अचानक दीदी के पत्र ने सारे राज खोल दिए थे. अब समझ में आया क्यों दीदी ने लिखा था कि जिंदगी में कभी किसी को अपनी कठपुतली मत बनाना और न ही कभी खुद किसी की कठपुतली बनना. Hindi Kahani Ek Din Achanak लता दीदी की आत्महत्या की खबर ने मुझे अंदर तक हिला दिया था क्योंकि दीदी कायर कदापि नहीं थीं. फिर मुझे एक दिन दीदी का वह पत्र मिला जिस ने सारे राज खोल दिए और मुझे परेशानी व असमंजस में डाल दिया कि क्या दीदी की आत्महत्या को मैं यों ही व्यर्थ जाने दूं? मैं बालकनी में पड़ी कुरसी पर चुपचाप बैठा था. जाने क्यों मन उदास था, जबकि लता दीदी को गुजरे अब 1 माह से अधिक हो गया है. दीदी की याद आती है तो जैसे यादों की बरात मन के लंबे रास्ते पर निकल पड़ती है. जिस दिन यह खबर मिली कि ‘लता ने आत्महत्या कर ली,’ सहसा विश्वास ही नहीं हुआ कि यह बात सच भी हो सकती है. क्योंकि दीदी कायर कदापि नहीं थीं. शादी के बाद, उन के पहले 3-4 साल अच्छे बीते. शरद जीजाजी और दीदी दोनों भोपाल में कार्यरत थे. जीजाजी बैंक में सहायक प्रबंधक हैं. दीदी शादी के पहले से ही सूचना एवं प्रसार कार्यालय में स्टैनोग्राफर थीं. लता

Hindi Family Story Big Brother Part 1 to 3

  Hindi kahani big brother बड़े भैया-भाग 1: स्मिता अपने भाई से कौन सी बात कहने से डर रही थी जब एक दिन अचानक स्मिता ससुराल को छोड़ कर बड़े भैया के घर आ गई, तब भैया की अनुभवी आंखें सबकुछ समझ गईं. अश्विनी कुमार भटनागर बड़े भैया ने घूर कर देखा तो स्मिता सिकुड़ गई. कितनी कठिनाई से इतने दिनों तक रटा हुआ संवाद बोल पाई थी. अब बोल कर भी लग रहा था कि कुछ नहीं बोली थी. बड़े भैया से आंख मिला कर कोई बोले, ऐसा साहस घर में किसी का न था. ‘‘क्या बोला तू ने? जरा फिर से कहना,’’ बड़े भैया ने गंभीरता से कहा. ‘‘कह तो दिया एक बार,’’ स्मिता का स्वर लड़खड़ा गया. ‘‘कोई बात नहीं,’’ बड़े भैया ने संतुलित स्वर में कहा, ‘‘एक बार फिर से कह. अकसर दूसरी बार कहने से अर्थ बदल जाता है.’’ स्मिता ने नीचे देखते हुए कहा, ‘‘मुझे अनिमेष से शादी करनी है.’’ ‘‘यह अनिमेष वही है न, जो कुछ दिनों पहले यहां आया था?’’ बड़े भैया ने पूछा. ‘‘जी.’’ ‘‘और वह बंगाली है?’’ बड़े भैया ने एकएक शब्द पर जोर देते हुए पूछा. ‘‘जी,’’ स्मिता ने धीमे स्वर में उत्तर दिया. ‘‘और हम लोग, जिस में तू भी शामिल है, शुद्ध शाकाहारी हैं. वह बंगाली तो अवश्य ही

Maa Ki Shaadi मां की शादी- भाग 1: समीर अपनी बेटी को क्या बनाना चाहता था?

मां की शादी- भाग 1: समीर अपनी बेटी को क्या बनाना चाहता था? मां की शादी- भाग 1: समीर अपनी बेटी को क्या बनाना चाहता था? समीर की मृत्यु के बाद मीरा के जीवन का एकमात्र मकसद था समीरा को सुखद भविष्य देना. लेकिन मीरा नहीं जानती थी कि समीरा भी अपनी मां की खुशियों को नए पंख देना चाहती थी. संध्या समीर और मैं ने, परिवारों के विरोध के बावजूद प्रेमविवाह किया था. एकदूसरे को पा कर हम बेहद खुश थे. समीर बैंक मैनेजर थे. बेहद हंसमुख एवं मिलनसार स्वभाव के थे. मेरे हर काम में दिलचस्पी तो लेते ही थे, हर संभव मदद भी करते थे, यहां तक कि मेरे कालेज संबंधी कामों में भी पूरी मदद करते थे. कई बार तो उन के उपयोगी टिप्स से मेरे लेक्चर में नई जान आ जाती थी. शादी के 4 वर्षों बाद मैं ने प्यारी सी बिटिया को जन्म दिया. उस के नामकरण के लिए मैं ने समीरा नाम सुझाया. समीर और मीरा की समीरा. समीर प्रफुल्लित होते हुए बोले, ‘‘यार, तुम ने तो बहुत बढि़या नामकरण कर दिया. जैसे यह हम दोनों का रूप है उसी तरह इस के नाम में हम दोनों का नाम भी समाहित है.’’ समीरा को प्यार से हम सोमू पुकारते, उस के जन्म के बाद मैं ने दोनों परिवारों मे