Segway E110 Electric Scooter Launched with 57km Range, Top Speed of 48 km/h: 57km रेंज के साथ Segway E110 इलेक्ट्रिक स्कूटर लॉन्च, HindiShayariH सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Segway E110 Electric Scooter Launched with 57km Range, Top Speed of 48 km/h: 57km रेंज के साथ Segway E110 इलेक्ट्रिक स्कूटर लॉन्च, HindiShayariH

Segway E110A 1.8kWh बैटरी पैक द्वारा संचालित है, जो E110A को एक बार चार्ज करने पर 35.5 मील तक की रेंज दे सकता है। इसकी बैटरी को छह घंटे तक फुल चार्ज किया जा सकता है।

Segway E110 Electric Scooter Launched with 57km Range, Top Speed of 48 km/h: 57km रेंज के साथ Segway E110 इलेक्ट्रिक स्कूटर लॉन्च,
Segway E110 इलेक्ट्रिक स्कूटर - Photo




Segway E110 इलेक्ट्रिक स्कूटर
Segway Ninebot ने अपना लेटेस्ट इलेक्ट्रिक स्कूटर E110A को लॉन्च किया है। कंपनी ने अपने 2022 प्रेस डे इवेंट में इलेक्ट्रिक स्कूटर के साथ-साथ 2022 किक स्कूटर लाइनअप की घोषणा भी की। E110A की बात करें, तो यह इलेक्ट्रिक स्कूटर सिंगल चार्ज में 35.5 मील (करीब 57 किलोमीटर) दौड़ सकता है। यह एक लो-स्पीड ई-स्कूटर है, जिसकी टॉप स्पीड 30 मील प्रति घंटा (करीब 48 km/h) है।

Segway ने प्रेस रिलीज़ के जरिए E110A के साथ-साथ नई इलेक्ट्रिक किक स्कूटर लाइनअप के लॉन्च की जानकारी दी। हालांकि, अभी कीमत से पर्दा नहीं उठाया गया है।

जैसा कि हमने बताया, Segway E110A की टॉप स्पीड 30mph है। स्कूटर को इतनी पावर देने के लिए इसमें 1.1kW क्षमता की इलेक्ट्रिक हब मोटर का इस्तेमाल किया गया है, जो 1.5kW का पीक आउटपुट देने में सक्षम है। इसमें 1.8kWh क्षमता का बैटरी पैक दिया गया है, जो E110A को सिंगल चार्ज में 35.5 मील तक चला सकता है। इसकी बैटरी छह घंटे तक पूरी तरह से चार्ज हो सकती है।

स्कूटर का वज़न 90 किलोग्राम है। इसमें 27-लीटर का स्टोरेज स्पेस भी मिलता है। E110A में ट्यूबलेस टायर्स मिलते हैं और दोनों टायर्स में डिस्क ब्रेक मिलते हैं। कंपनी का दावा है कि स्कूटर IPX5 रेटिंग से लैस है। इसमें रिमोटर की ऑपरेशन, पासवर्ड अनलॉक और बैटरी सेफ्टी जैसे सेफ्टी फीचर्स भी मिलते हैं।

Segway-Ninebot के SVP और Segway ग्लोबल बिजनेस सेंटर के प्रेसिडेंट Alex Huang का कहना है कि "सेगवे को निजी परिवहन क्षेत्र में इनोवेशन और लीडरशिप की हमारी लंबी परंपरा को जारी रखने पर गर्व है। पिछले 2 साल सभी के लिए कठिन रहे हैं, लेकिन आज यहां कैलिफोर्निया में तीन नई प्रोडक्ट कैटेगरी के हमारे लेटेस्ट अनावरण के साथ, हम भविष्य में यहां और अधिक सिंपल मूविंग सेवाएं और ग्रीन-एनर्जी, स्मार्ट पर्सनल मोबिलिटी प्रोडक्ट प्रदान करने की उम्मीद करते हैं।”


सेगवे,इलेक्ट्रिक स्कूटर,segway,segway ninebot,electric scooters

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

एक दिन अचानक हिंदी कहानी, Hindi Kahani Ek Din Achanak

एक दिन अचानक दीदी के पत्र ने सारे राज खोल दिए थे. अब समझ में आया क्यों दीदी ने लिखा था कि जिंदगी में कभी किसी को अपनी कठपुतली मत बनाना और न ही कभी खुद किसी की कठपुतली बनना. Hindi Kahani Ek Din Achanak लता दीदी की आत्महत्या की खबर ने मुझे अंदर तक हिला दिया था क्योंकि दीदी कायर कदापि नहीं थीं. फिर मुझे एक दिन दीदी का वह पत्र मिला जिस ने सारे राज खोल दिए और मुझे परेशानी व असमंजस में डाल दिया कि क्या दीदी की आत्महत्या को मैं यों ही व्यर्थ जाने दूं? मैं बालकनी में पड़ी कुरसी पर चुपचाप बैठा था. जाने क्यों मन उदास था, जबकि लता दीदी को गुजरे अब 1 माह से अधिक हो गया है. दीदी की याद आती है तो जैसे यादों की बरात मन के लंबे रास्ते पर निकल पड़ती है. जिस दिन यह खबर मिली कि ‘लता ने आत्महत्या कर ली,’ सहसा विश्वास ही नहीं हुआ कि यह बात सच भी हो सकती है. क्योंकि दीदी कायर कदापि नहीं थीं. शादी के बाद, उन के पहले 3-4 साल अच्छे बीते. शरद जीजाजी और दीदी दोनों भोपाल में कार्यरत थे. जीजाजी बैंक में सहायक प्रबंधक हैं. दीदी शादी के पहले से ही सूचना एवं प्रसार कार्यालय में स्टैनोग्राफर थीं. लता

Hindi Family Story Big Brother Part 1 to 3

  Hindi kahani big brother बड़े भैया-भाग 1: स्मिता अपने भाई से कौन सी बात कहने से डर रही थी जब एक दिन अचानक स्मिता ससुराल को छोड़ कर बड़े भैया के घर आ गई, तब भैया की अनुभवी आंखें सबकुछ समझ गईं. अश्विनी कुमार भटनागर बड़े भैया ने घूर कर देखा तो स्मिता सिकुड़ गई. कितनी कठिनाई से इतने दिनों तक रटा हुआ संवाद बोल पाई थी. अब बोल कर भी लग रहा था कि कुछ नहीं बोली थी. बड़े भैया से आंख मिला कर कोई बोले, ऐसा साहस घर में किसी का न था. ‘‘क्या बोला तू ने? जरा फिर से कहना,’’ बड़े भैया ने गंभीरता से कहा. ‘‘कह तो दिया एक बार,’’ स्मिता का स्वर लड़खड़ा गया. ‘‘कोई बात नहीं,’’ बड़े भैया ने संतुलित स्वर में कहा, ‘‘एक बार फिर से कह. अकसर दूसरी बार कहने से अर्थ बदल जाता है.’’ स्मिता ने नीचे देखते हुए कहा, ‘‘मुझे अनिमेष से शादी करनी है.’’ ‘‘यह अनिमेष वही है न, जो कुछ दिनों पहले यहां आया था?’’ बड़े भैया ने पूछा. ‘‘जी.’’ ‘‘और वह बंगाली है?’’ बड़े भैया ने एकएक शब्द पर जोर देते हुए पूछा. ‘‘जी,’’ स्मिता ने धीमे स्वर में उत्तर दिया. ‘‘और हम लोग, जिस में तू भी शामिल है, शुद्ध शाकाहारी हैं. वह बंगाली तो अवश्य ही

Maa Ki Shaadi मां की शादी- भाग 1: समीर अपनी बेटी को क्या बनाना चाहता था?

मां की शादी- भाग 1: समीर अपनी बेटी को क्या बनाना चाहता था? मां की शादी- भाग 1: समीर अपनी बेटी को क्या बनाना चाहता था? समीर की मृत्यु के बाद मीरा के जीवन का एकमात्र मकसद था समीरा को सुखद भविष्य देना. लेकिन मीरा नहीं जानती थी कि समीरा भी अपनी मां की खुशियों को नए पंख देना चाहती थी. संध्या समीर और मैं ने, परिवारों के विरोध के बावजूद प्रेमविवाह किया था. एकदूसरे को पा कर हम बेहद खुश थे. समीर बैंक मैनेजर थे. बेहद हंसमुख एवं मिलनसार स्वभाव के थे. मेरे हर काम में दिलचस्पी तो लेते ही थे, हर संभव मदद भी करते थे, यहां तक कि मेरे कालेज संबंधी कामों में भी पूरी मदद करते थे. कई बार तो उन के उपयोगी टिप्स से मेरे लेक्चर में नई जान आ जाती थी. शादी के 4 वर्षों बाद मैं ने प्यारी सी बिटिया को जन्म दिया. उस के नामकरण के लिए मैं ने समीरा नाम सुझाया. समीर और मीरा की समीरा. समीर प्रफुल्लित होते हुए बोले, ‘‘यार, तुम ने तो बहुत बढि़या नामकरण कर दिया. जैसे यह हम दोनों का रूप है उसी तरह इस के नाम में हम दोनों का नाम भी समाहित है.’’ समीरा को प्यार से हम सोमू पुकारते, उस के जन्म के बाद मैं ने दोनों परिवारों मे