Tata Altroz DCT Variant Will be Launched in India Tomorrow, Know full Details of Price and Features : Tata Altroz का DCT जानें कीमत और फीचर्स की पूरी डिटेल सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Tata Altroz DCT Variant Will be Launched in India Tomorrow, Know full Details of Price and Features : Tata Altroz का DCT जानें कीमत और फीचर्स की पूरी डिटेल

भारत में कल होगा लॉन्च Tata Altroz का DCT वैरिएंट: Tata Altroz का DCT जानें कीमत और फीचर्स की पूरी डिटेल कार निर्माता ने अल्ट्रोज़ को तीन इंजन विकल्पों 1.2-लीटर नैचुरली एस्पिरेटेड पेट्रोल, 1.2-लीटर टर्बो-पेट्रोल और 1.5-लीटर डीजल के साथ पेश किया है, जिसमें 5-स्पीड मैनुअल गियरबॉक्स स्टैंडर्ड है।

 


Tata Altroz's DCT Variant Will be Launched in India Tomorrow, Know full Details of Price and Features : Tata Altroz का DCT जानें कीमत और फीचर्स की पूरी डिटेल  1 of 1
टाटा अल्ट्रोज की डीपीसी वेरिएंट-फोटो



Tata Altroz DCT Launch Update: घरेलू वाहन निर्माता कंपनी टाटा मोटर्स कल देश में अपनी प्रीमियम हैचबैक अल्ट्रोज का ऑटोमैटिक वेरिएंट लॉन्च करने के लिए पूरी तरह तैयार है। अल्ट्रोज के एएमटी वैरिएंट के लिए कंपनी पहले ही बुकिंग शुरू कर चुकी है, यानी इच्छुक खरीदार इस कार को 21,000 रुपये की राशि पर बुक कर सकते हैं, बता दें, अल्ट्रोज़ हैचबैक का नया डीसीटी गियरबॉक्स तीन वैरिएंट XT, XZ और XZ+ पर पेश किया जाएगा।


 
इस इंजन के साथ मिलेगा DCT का विकल्प

अल्ट्रोज के डीसीटी वैरिएंट पर 1.2-लीटर, तीन-सिलेंडर युक्त एनए पेट्रोल इंजन दिया जाएगा। जिसके पॉवर और टॉर्क का खुलासा होना बाकी है। बताते चलें, कि फिलहाल यह इंजन केवल फाइव-स्पीड मैनुअल यूनिट के साथ उपलब्ध है। यहां ध्यान देने वाली बात यह है, कि नए गियरबॉक्स के साथ कंपनी अल्ट्रोज को ओपेरा ब्लू नामक एक नए शेड के अलावा हार्बर ब्लू, एवेन्यू व्हाइट, कॉसमॉस ब्लैक, डाउनटाउन रेड और आर्केड ग्रे कलर विकल्प के साथ ब्रिकी के लिए उपलब्ध कराएगी।

 
 
तीन इंजन के साथ उपलब्ध Tata Altroz

उम्मीद की जा रही है कि टाटा अल्ट्रोज़ डीसीटी के टॉप वैरिएंट पर एक बड़ी टचस्क्रीन की पेशकश कर सकती है, क्योंकि वर्तमान में इस कार पर 7.0-इंच की स्क्रीन शामिल है। बता दें, कार निर्माता ने अल्ट्रोज़ को तीन इंजन विकल्पों 1.2-लीटर नैचुरली एस्पिरेटेड पेट्रोल, 1.2-लीटर टर्बो-पेट्रोल और 1.5-लीटर डीजल के साथ पेश किया है, जिसमें 5-स्पीड मैनुअल गियरबॉक्स स्टैंडर्ड है।


 


फीचर्स और कीमत पर अपडेट

सुरक्षा के लिहाज से Tata Altroz में 7-इंच का टचस्क्रीन इंफोटेनमेंट सिस्टम, क्रूज़ कंट्रोल, एक सेमी-डिजिटल इंस्ट्रूमेंट क्लस्टर, एम्बिएंट लाइटिंग और कनेक्टेड कार टेक्नोलॉजी मिलती है। फिलहाल इस कार की कीमत को लेकर कोई अपडेट नहीं है, लेकिन माना जा रहा है, कि यह मौजूदा मॉडल की कीमत से करीब 30 से 40 हजार ज्यादा प्रीमियम होगी।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

एक दिन अचानक हिंदी कहानी, Hindi Kahani Ek Din Achanak

एक दिन अचानक दीदी के पत्र ने सारे राज खोल दिए थे. अब समझ में आया क्यों दीदी ने लिखा था कि जिंदगी में कभी किसी को अपनी कठपुतली मत बनाना और न ही कभी खुद किसी की कठपुतली बनना. Hindi Kahani Ek Din Achanak लता दीदी की आत्महत्या की खबर ने मुझे अंदर तक हिला दिया था क्योंकि दीदी कायर कदापि नहीं थीं. फिर मुझे एक दिन दीदी का वह पत्र मिला जिस ने सारे राज खोल दिए और मुझे परेशानी व असमंजस में डाल दिया कि क्या दीदी की आत्महत्या को मैं यों ही व्यर्थ जाने दूं? मैं बालकनी में पड़ी कुरसी पर चुपचाप बैठा था. जाने क्यों मन उदास था, जबकि लता दीदी को गुजरे अब 1 माह से अधिक हो गया है. दीदी की याद आती है तो जैसे यादों की बरात मन के लंबे रास्ते पर निकल पड़ती है. जिस दिन यह खबर मिली कि ‘लता ने आत्महत्या कर ली,’ सहसा विश्वास ही नहीं हुआ कि यह बात सच भी हो सकती है. क्योंकि दीदी कायर कदापि नहीं थीं. शादी के बाद, उन के पहले 3-4 साल अच्छे बीते. शरद जीजाजी और दीदी दोनों भोपाल में कार्यरत थे. जीजाजी बैंक में सहायक प्रबंधक हैं. दीदी शादी के पहले से ही सूचना एवं प्रसार कार्यालय में स्टैनोग्राफर थीं. लता

Hindi Family Story Big Brother Part 1 to 3

  Hindi kahani big brother बड़े भैया-भाग 1: स्मिता अपने भाई से कौन सी बात कहने से डर रही थी जब एक दिन अचानक स्मिता ससुराल को छोड़ कर बड़े भैया के घर आ गई, तब भैया की अनुभवी आंखें सबकुछ समझ गईं. अश्विनी कुमार भटनागर बड़े भैया ने घूर कर देखा तो स्मिता सिकुड़ गई. कितनी कठिनाई से इतने दिनों तक रटा हुआ संवाद बोल पाई थी. अब बोल कर भी लग रहा था कि कुछ नहीं बोली थी. बड़े भैया से आंख मिला कर कोई बोले, ऐसा साहस घर में किसी का न था. ‘‘क्या बोला तू ने? जरा फिर से कहना,’’ बड़े भैया ने गंभीरता से कहा. ‘‘कह तो दिया एक बार,’’ स्मिता का स्वर लड़खड़ा गया. ‘‘कोई बात नहीं,’’ बड़े भैया ने संतुलित स्वर में कहा, ‘‘एक बार फिर से कह. अकसर दूसरी बार कहने से अर्थ बदल जाता है.’’ स्मिता ने नीचे देखते हुए कहा, ‘‘मुझे अनिमेष से शादी करनी है.’’ ‘‘यह अनिमेष वही है न, जो कुछ दिनों पहले यहां आया था?’’ बड़े भैया ने पूछा. ‘‘जी.’’ ‘‘और वह बंगाली है?’’ बड़े भैया ने एकएक शब्द पर जोर देते हुए पूछा. ‘‘जी,’’ स्मिता ने धीमे स्वर में उत्तर दिया. ‘‘और हम लोग, जिस में तू भी शामिल है, शुद्ध शाकाहारी हैं. वह बंगाली तो अवश्य ही

Maa Ki Shaadi मां की शादी- भाग 1: समीर अपनी बेटी को क्या बनाना चाहता था?

मां की शादी- भाग 1: समीर अपनी बेटी को क्या बनाना चाहता था? मां की शादी- भाग 1: समीर अपनी बेटी को क्या बनाना चाहता था? समीर की मृत्यु के बाद मीरा के जीवन का एकमात्र मकसद था समीरा को सुखद भविष्य देना. लेकिन मीरा नहीं जानती थी कि समीरा भी अपनी मां की खुशियों को नए पंख देना चाहती थी. संध्या समीर और मैं ने, परिवारों के विरोध के बावजूद प्रेमविवाह किया था. एकदूसरे को पा कर हम बेहद खुश थे. समीर बैंक मैनेजर थे. बेहद हंसमुख एवं मिलनसार स्वभाव के थे. मेरे हर काम में दिलचस्पी तो लेते ही थे, हर संभव मदद भी करते थे, यहां तक कि मेरे कालेज संबंधी कामों में भी पूरी मदद करते थे. कई बार तो उन के उपयोगी टिप्स से मेरे लेक्चर में नई जान आ जाती थी. शादी के 4 वर्षों बाद मैं ने प्यारी सी बिटिया को जन्म दिया. उस के नामकरण के लिए मैं ने समीरा नाम सुझाया. समीर और मीरा की समीरा. समीर प्रफुल्लित होते हुए बोले, ‘‘यार, तुम ने तो बहुत बढि़या नामकरण कर दिया. जैसे यह हम दोनों का रूप है उसी तरह इस के नाम में हम दोनों का नाम भी समाहित है.’’ समीरा को प्यार से हम सोमू पुकारते, उस के जन्म के बाद मैं ने दोनों परिवारों मे